रानीगांव प्रिमियम लीग का प्रथम आयोजन सम्पन्न

रानीगांव प्रिमियम लीग का प्रथम आयोजन सम्पन्न

SHARE

मुंबई। गोड़वाड़ का आदर्श गांव कहे जाने वाले रानीगांव हमेशा से ही सुर्खीयों में रहता है। चाहे कोई भी सामाजिक कार्य हो, धार्मिक कार्य, इतना व्यवस्थित और शानदार होता है कि लोग काफी समय तक याद रखते हैं। अभी हाल में खेल-कुद में भी रानीगांव ने कदम रखा और पुरे गोड़वाड़ में वाह वाही लुटी। पिछले दिनों रानीगांव युथ फोरम द्वारा आयोजीत प्रथम क्रिकेट प्रतियोगिता रानीगांव प्रिमियर लीग भव्य रुप से सम्पन्न हुई। ४ और ५ मई का परेल सेट्रल रेलवे ग्राऊण्ड मुंबई में हुए रानीगांव प्रिमीयम लीग में १० टिमों ने भाग लिया जिसमें धनरेशा शाईनींग स्टार्स, रावड़ी राठौड, जैन रॉकर्स, राठौड रॉयल्स, पुनमिया टाईगर्स, परमार पैंथरर्स, मेहता वॉरियर्स, जोशीले जैनस्, चोवटिया चेलैंजर्स, श्रीश्रीमाल मॅशर्स थी। इन टीमों के बीच टोटल २० मैंच लीग के हुए जो ५-५ ओवर के थे। फाईनल मैच ७ ओवर का था जिसमें चोवटीया चेलेंजर्स ने विजय प्राप्त की। दूसरे स्थान पर पुनमिया टाईगर्स रहीं। विजेता को भव्य ट्राफी प्रदान की गई। मेन आफ द सिरीज रहे सुनील रमेश मेहता को भी ट्राफी प्रदान की गयी। इसके अलावा सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज और सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज का भी सम्मान किया गया। पुरे टुर्नामेंट में विशेष आकर्षण का केन्द्र रहा महिलाओं क्रिकेट मैंच। रानीगांव युथ फोरम द्वारा २ टीम बनाकर एक मैच करने का प्रस्ताव था। लेकिन महिलाओं के जोश और उमंगता देखते हुए ६ टीम बनाई गई जिसमें तीन मैच आयोजित हुए। इस तीनों मैंचो को स्टेडियम में मौजुद सेंकड़ो दर्शकों की खुब वाह वाह मिली।

 

Ranigaon PremierL1

रानीगांव युथ फोरम के ललीत जैन, पंकज जैन, भरत श्रीश्रीमाल, यश धनरेशा, संदीप मेहता, रितेश चोवटिया, राकेश राठौड, दिनेश मेहता, सुरेश परमार, संजय श्रीश्रीमाल और रमेश मेहता ने इस कार्यक्रम की सफल बनाने में कोई कसर नहीं रखी। वे कई दिनों से इस शानदार बनाने के लिए जी तोड मेहनत कर रहे थे।

टुर्नामेंट के टाईटल पार्टनर बाबुलालजी चुन्नीलालजी धरनेशा (नगरसेठ) पद्मावती मार्केटिंग थे। प्रथम दिन फुड पार्टनर श्रीमती रेशमीबेन चम्पालालजी राठौड और दुसरे दिन फुड पार्टनर रानीगांव युथ फोरम स्वयं था। विनर्स ट्रॉफी एवं चौके छक्के के पार्टनर जैन केटर्स रहे। वही मेन ऑफ द सीरीज, मैन ऑफ द मैच, सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज एवं सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज की ट्रॉफी के पार्टनर संदीप आर्ट ज्वेलरी रहे। विकेट के लाभार्थी अलंकार ज्वेलर्स थे, तो टॉस का बॉस सुभाषजी पुनमिया, कैप के स्पोनर्स चौवटिया परिवार रहे। उपविजेता रही टीम को ट्रॉफी भैरव मेटल्स द्वारा प्रदान कि गयी। दोनो दिन स्वादिष्ट ओर ललीज भोजन की व्यवस्था मुंबई के विख्यात केटर्स जैन केटर्स द्वारा की गई। जैन केटर्स के बारे में हमें ज्यादा लिखने की जरुरत नहीं है। पुरे गोड़वाड सहित सभी जगह सिर्फ जैन केटर्स का नाम ही काफी है। कुल मिलाकर रानीगांव युथ फोरम द्वारा ये प्रथम आयोजन इतना ऐतिहासिक ओर यादगार रहा कि दुसरे टुनामेंट की सारी स्पोन्सरशिप के लाभार्थी वहीं पर मिल गये। टुर्नामेंट में प्रथम दिन ६०० मेंहमानों ने व दुसरे दिन ८०० मेहमानों ने हिस्सा लिया। शताब्दी गौरव परिवार रानीगांव प्रिमियम लीग की सफलता पर पुरी टीम को बधाई देता है। और दुसरे आयोजन पर अग्रीम शुभकामनाएं देता है।