राजस्थान के किशोर खीमावत परिवार ने 10 लाख पौधे लगाकर रेगिस्तान को...

राजस्थान के किशोर खीमावत परिवार ने 10 लाख पौधे लगाकर रेगिस्तान को किया हरा-भरा, अब वह इंदौर सहित प्रदेश में खिलाएगा हरियाली

SHARE

किशोर खीमावत ने २००२ में की थी शुरुआत, पति के निधन के बाद ५ साल से पत्नी बसंती देवी संभाल रही हैं जिम्मेदारी

इंदौर। राजस्थान का खीमावत परिवार। हरियाली के प्रति ऐसा जुनून कि 15 साल में रेगिस्तान में 10 लाख से ज्यादा पौधे लगा दिए। सडक़ों के किनारों से लेकर गांव की गलियों तक को हरा-भरा कर दिया। अब यह परिवार इंदौर सहित प्रदेश के अन्य शहरों में पौधे लगाएगा। मूलत: खिमेल (पाली) निवासी किशोर खीमावत ने 2002 में पौधे लगाने की शुरुआत की थी। 2012 में उनके निधन के बाद अब पौधे लगाने की व्यवस्था पत्नी बसंती देवी खीमावत और बेटे-बेटी ने संभाल रखी है। इसके लिए वे मुंबई से हर सप्ताह राजस्थान आती-जाती हैं। जैन समाज के कार्यक्रम में शामिल होने इंदौर आई बसंती देवी का कहना है जैन समाज की पहल पर मप्र में पौधे लगाने की शुरुआत जैन तीर्थ स्थल मोहनखेड़ा के साथ इंदौर से करेंगी।

khimavat Pariwar

जैन समाज ने किया बसंतीदेवी खीमावत का सम्मान – इंदौर। राजस्थान में 10 लाख से ज्यादा पौधे लगाकर हरियाली करने वाली बसंतीदेवी किशोरमलजी खीमावत (मुंबई) का रामबाग दादावाड़ी में श्वेतांबर जैन समाज ने साध्वीश्री विनिताश्रीजी के पावन सानिध्य में सम्मानित किया। इस मौके पर बसंतीदेवी खीमावत ने कहा वे राजस्थान के बाद अब मोहनखेड़ा तीर्थ और इंदौर के अलावा प्रदेश के अन्य शहरों में भी पौधरोपण करेंगी।