Sunday, July 21, 2019
Authors Posts by shatabdiadmin

shatabdiadmin

950 POSTS 0 COMMENTS

भगवान महावीर की मूल शिक्षा है- 'अहिंसाÓ। सबसे पहले 'अहिंसा परमो धर्म:Ó का प्रयोग हिंदुओं का ही नहीं बल्कि समस्त मानव जाति के पावन...

मनुष्य सुख का इच्छुक है। वह सुख से जीना चाहता है। उसके सुख में किसी प्रकार की बाधा पहुंचती है तो वह बेचैन हो...

सदियों पहले महावीर जन्मे। वे जन्म से महावीर नहीं थे। अनगिनत संघर्षों को झेला, कष्ट सहे, दुख में से सुख खोजा और तब कठिन...

श्रमण संस्कृति में पर्युषण पर्व को खास महत्व दिया गया है। जहां शेष समस्त पर्व-त्योहारों के पीछे लौकिक कारणों की प्रमुखता है, वहीं पर्युषण...

सदियों पहले महावीर जन्मे। वे जन्म से महावीर नहीं थे। अनगिनत संघर्षों को झेला, कष्ट सहे, दुख में से सुख खोजा और तब कठिन...

मंत्र जीवन का रहस्य होते हैं। इनका संबंध मन से होता है। आत्मशुद्धि मंत्र, मन के मंथन का ही परिणाम है। मन की सोई...

महावीर अब हमारे बीच नहीं हैं, पर महावीर की सोच, महावीर की वाणी हमारे हृदय में सुरक्षित है। परन्तु आज के इस भौतिकवाद के...

क्षमा का चिंतन व्यक्ति ही श्रेष्ठता की स्वस्थ पहचान है। लोक व्यवहार में द्वेष की आग सुलगती है, विरोधी प्रतिरोध कम होते हैं वहां...

यह मन से निकाल दें कि जैन धर्म हिन्दू धर्म की एक शाखा है। जैन धर्म से प्राचीन है हिन्दू धर्म, यह कहना भी...

पर्युषण पर्व जैन समाज का एक ऐसा महापर्व है जो प्रतिवर्ष सारी दुनिया में मनाया जाता है। चाहे श्वेताम्बर हों या दिगम्बर- जैन समाज...