Sunday, August 19, 2018
Authors Posts by shatabdiadmin

shatabdiadmin

821 POSTS 0 COMMENTS

मूलनायक : श्री शामलिया पार्श्वनाथ भगवान, पद्मसनस्थ। मार्गदर्शक : यह विश्व प्रसिध्द तीर्थ मधुबन के पास समुद्र की सतह से 4479 फुट उँचे सम्मेतशिखर पहाड...

श्री सेवाड़ी तीर्थ / Shree Sewadi Tirth सेवाड़ी तीर्थ अतिप्राचीन है। यहां जैन मंदिर में उत्कीर्ण लेखों से ज्ञात होता है कि यह कभी बड़ा...

श्री सेसली तीर्थ / Shree Sesli Tirth: जैन मान्यतानुसार तीर्थ दो प्रकार के बताये गये हैं। पहला सिद्ध क्षेत्र व दूसरा अतिशय क्षेत्र। सिद्ध क्षेत्र...

श्री शंखेश्वर तीर्थ / Shree Shankeshvar Tirth मूलनायक : श्री शंखेश्वर पार्श्वनाथ भगवान, श्वेतवर्ण, पद्मासनस्थ। मार्गदर्शन : सामी से २५ कि.मी. दूर, हारीज से ४० कि.मी....

शहर के बीच में मुख्य राजमार्ग में १२ वें तीर्थंकर वासुपूज्य स्वामी का सुंदर मंदिर आया है। यह मंदिर जुनी शिल्पकला बना हुआ और...

राजस्थान के पाली जिले में सादड़ी से दस किलोमीटर दूर दक्षिण-पूर्व में मघई नदी के किनारे प्राकृतिक सुषमा से आच्छादित आरावली पर्वतमालाओ की सुरम्य...

श्री पावापुरी तीर्थ / Shree Pavapuri Tirth पावापुरी तीर्थ सिरोही रोड स्टेशन से ४१ कि.मी. की दूरी पर है। आबु रोड स्टेशन से बस तथा...

श्री पावागढ़ तीर्थ / Shree Pavagadh Tirth मूलनायक : श्री पार्श्वनाथ भगवान, श्वेतवर्ण, पद्मासनस्थ, भगवान महावीर स्वामी। मार्गदर्शन : यह तीर्थ स्थान बड़ौदा से ५० किलोमीटर...

श्री ओसियांजी तीर्थ / Shree Osiyaji Tirth मूलनायक : श्री महावीर स्वामी सुवर्ण वर्ण। मार्गदर्शन : ओसियां रेलवे स्टेशन जोधपुर- जैसलमेर मार्ग पर स्थित है। जोधपुर...

श्री नारलाई तीर्थ / Shree Narlai Tirth गोडवाड़ की जैन पंचतीर्थी का एक तीर्थ नारलाई, मंदिरों की नगरी के नाम से प्रसिद्ध है। छोटी बड़ी...