नाकोडा दरबार (मण्डल) लालबाग, मुम्बई द्वारा आयोजित भक्ति के महाकुंभ समा 18वीं...

    नाकोडा दरबार (मण्डल) लालबाग, मुम्बई द्वारा आयोजित भक्ति के महाकुंभ समा 18वीं श्री पाश्र्वभैरव महाभक्ति 2019 अद्भुत अविस्मरणीय

    SHARE

    भक्ति महाकुम्भ का होता महीनों पहले से आगाज…     संगीत के सुरों में रंगे भक्तों का होता अनोखा अंदाज…

    मुंबई। सूरज जिस प्रकार भोर की किरण के साथ अपनी पूर्णता की और प्रयाण करता है, ठीक उसी प्रकार सुबह 10.08बजे शुरू हुई भक्ति की तपिश भी धीरे धीरे परवान चढ़ी, जिसका खुमार भक्तों पर नजर आने लगा था। झुमते नाचते भक्तों को देखकर लग रहा था कि ये भक्ति बरसो बरस एक अमिट याद बनकर भक्तों के जेहन में रहेगी।

    नाकोड़ा दरबार (मण्डल) लालबाग, मुंबई द्वारा आयोजित 18वीं श्री पाश्र्वभैरव महाभक्ति ऐतिहासिक रूप से 5हजार भक्तों की उपस्थिति के साथ हर्षोल्लास के साथ संपन्न हुई। नाकोड़ा दरबार (मण्डल) लालबाग के संस्थापक अध्यक्ष मनोजभाई शोभावत एवं नाकोड़ा दरबार के सभी सदस्यों की मेहनत रंग लायी। महाभक्ति में युवा दिलों की धडक़न वैभव बाघमार (बालोतरा) ने सुरीले सफर को वैभवमय बनाया तो पहाड़ी आवाज की मल्लिका गायिका हीना डांगी (मंदसौर) ने  सभी को भक्ति रूपी हिना के रंग में रंग सम्पूर्ण वातावरण को भक्तिमय बना दिया। दोनो ही कलाकारों ने एक से बढकर एक नये पुराने भक्ति के भक्तिमय गीतों से सभी को झूमने पर मजबूर कर दिया। मंच संचालन ओजस्वी मंच सारथी ललितजी परमार, भायंदर ने किया।

    महाभक्ति का सम्पूर्ण लाभ श्रीमती चन्द्रकांतादेवी भँवरलालजी रांका परिवार पुत्र पारसमल, पदमकुमार, पवनकुमार बिजयनगर (राजस्थान) वर्धमान हाईट , मुम्बई थे। मुख्य अतिथि नाकोड़ाजी तीर्थ के अध्यक्ष रमेशचन्द्र मोहनलालजी मुथा थे जिन्हे राष्ट्रसंत परम पूज्य आचार्य गुरूदेव श्री चन्द्रानन सागर सूरीश्वर महाराज की आज्ञा से जिनशासन गौरव रत्न के अलंकरण से सम्मानित किया गया। इनके अलावा विशेष अतिथि के तौर पर राजस्थान सरकार के खनन मंत्री एवं गौपालन मंत्री प्रमोद (भाया) जैन और परम भैरव भक्त जसवंतराज नेमीचंदजी लुणीया पधारे थे जिनका बहुमान लाभार्थी पदमकुमार जैन, नाकोडा दरबार के संस्थापक अध्यक्ष मनोज शोभावत आदि कार्यकर्ता द्वारा किया गया।

    श्री पाश्र्वभैरव प्रसादी बुक का विमोचन लाभार्थी परिवार द्वारा किया गया। नाकोड़ा दरबार द्वारा संचालित श्री नाकोड़ा दर्शन जैन पाठशाला (भायंदर) स्वर्ण कलश के लाभार्थी श्रीमती कंचनबेन नथमलजी कोठारी कोसेलाव परिवार और रजत कलश के लाभार्थी श्रीमती विमलाबेन मदनलालजी शोभावत परिवार खिवान्दी का बहुमान भी नाकोड़ा दरबार  द्वारा किया गया। ये कहे तो कोई आतिशयोक्ति नही होगी कि, इस प्रकार की श्री पाश्र्वभैरव महाभक्ति का आयोजन मुम्बई में ही नही अपितु पूरे भारत मे अपने आप मे विशाल और इकलौता आयोजन होता है और ये महा भक्ति का कुंभ दिन प्रतिदिन विशाल और वैभवता की ओर निरन्तर अग्रसर है।

    जिस प्रकार से पिछले कई वर्षों से शंत्रुजय समा भायखला की पावन पुण्यधरा पर नाकोड़ा दरबार (मंडल) लालबाग, मुम्बई ने जिस तरह इतिहास रचकर धर्म प्रभावना में अभिवृद्धि की है और शासन सेवा कर रहे है उसके पीछे नाकोडा दरबार के संस्थापक अध्यक्ष मनोजभाई शोभावत की दूरदृष्टी, गहरी सोच परमार्थ की भावना का परिचायक है। जिन्होने अपने सेवा समर्पण भाव से युवाओं को इस भक्ति भाव और शासन सेवा से जोडने का कार्य किया है। कार्यकर्ताओ का उल्लेख करे तो इस महा भक्ति को सफल बनाने में भरत एन. कोठारी, नवरत्न धोका, भंवर के. छाजेड, राजेश एम जैन, जितेन्द्र एम. जैन, अशोक टी. बडाला, भरत एस. मुठलिया, कमलेश बी. जैन, मुकेश सी. राणावत, अशोक जे. गांधी, घेवर के. छाजेड, भरत आर. फागनिया, रंजीत सी. जैन, हरीश आर जैन, नितेश एम जैन, भरत जे लालवानी अरविन्द के. जैन, गिरीश पी शाह, रिची एम, शोभावत आदि नाकोडा दरबार के तमाम युवा सदस्यों का अभूतपूर्व योगदान रहा। भक्ति में कई संघो के गणमान्य व्यक्ति, आमंत्रित भक्ति मंडल तथा कई गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थिति भी उल्लेखनीय रही, जिसमे नाकोडा दरबार (मण्डल) लालबाग के सलाहकार प्रकाशभाई शाह (मेमसाब), सज्जनराज रांका, किरणराज लोढ़ा, श्री मोतीशा आदेश्वरजी जैन मंदिर ट्रस्टी अध्यक्ष, नाकोडा धाम के अध्यक्ष कांतिलाल शाह (अंसा ज्वेल्र्स), सचिव दिनेश ज्योतिचन्दजी तेलिसरा, उज्जैन शाखा: अध्यक्ष सुनील जैन, संजय संघवी,  प्रमोद जैन अनिल जैन, मलबार हिल मुम्बई के विधायक मंगलप्रभात लोढा, नाकोडा तीर्थ के ट्रस्टी अशोक चौहान, उद्योगपति मदनलाल मुठलिया, पृथ्वीराज कोठारी (रिद्धि सिद्धि बुलियन) घेवरचंद जैन, जयंतीलाल जैन, बाबुलाल जैन, किरण  जैन, ललित राठौड़ (शक्ति), प्रकाश चोपड़ा, अमृत टी जैन, कमलेश एल पारेख, हितेश एस. रांका, भगवानचंद जैन, एडवोकेट प्रकाश माली, कमलेश श्रीश्रीमाल ठाणे, अशोक बी तवरेचा वोरा, कवि सुखदेवसिह पाली, लेखिका संगीता बागरेचा (संगी) नाकोडा मित्र मंडल खारघर की गरिमामय उपस्थिति रही। हर वर्ष धार्मिक पाठशाला, नोट बुक वितरण, संघोत्सव का आयोजन, मानवसेवा, जीवदया, साधर्मिक भक्ति आदि कई कार्य भी नाकोड़ा दरबार (मण्डल) लालबाग कर रहा है साथ ही समाज हित में कई योजनाएं विचाराधीन है। यह जानकारी नाकोड़ा दरबार के सचिव नवरत्न बी धोका ने दी।