आचार्य प्रभाकर सूरीश्वर महाराज का चातुर्मास मंगल प्रवेश महापौर, विधायक, नगरसेवकों व...

आचार्य प्रभाकर सूरीश्वर महाराज का चातुर्मास मंगल प्रवेश महापौर, विधायक, नगरसेवकों व प्रमुख लोगों की उपस्थिति में स्वागत हुआ शानदार

SHARE

मुंबई। भायंदर वेस्ट पद्मावती नगर में श्री पाश्र्व पद्मावती जैन श्वेतांबर मूतिपूजक संघ एवं श्री पानीबाई भबुतमलजी रेड चेरीटेबल ट्रस्ट की आग्रहभरी विनती से संयम सम्राट लब्धिधारी धर्म प्रभावक परम पूज्य आचार्य श्री विजय दक्ष सूरीश्वर महाराज के पट्ट प्रभावक समकित सम्राट सुप्रसिद्ध प्रवचनकार श्री पाश्र्व पद्मावती महादेवी साधक परम पूज्य आचार्य श्री विजय प्रभाकर सूरीश्वर महाराज आदि ठाणा का अषाढ़ सुद-२, गुरुवार दि. ४.७.२०१९ को गुरु पुष्यामृत सिद्धी योग के शुभदिन ऐतिहासिक भव्यातिभव्य मंगल चातुर्मास प्रवेश का कार्यक्रम संपन्न हुआ। अवराधार बारिश में भी गुरुदेवश्री के आगमन पर सकल संघ के श्रावक-श्राविकाओं ने विशाल संख्या में सामैया स्वागत किया। मुंबई के नगर उपनगर से एवं पुणे अहमदाबाद कोल्हापूर बैंगलोर से गुरुदेव के भायंदर प्रवेश पर पधारकर प्रवेशोत्सव को भव्य बनाया। चातुर्मास प्रवेश में कलशधारी बालिकाओं सौभाग्यवती बहनों एवं बग्घी में गुरुदेवों की प्रतिकृति के साथ पारस बैंण्ड की सुमधूर ध्वनि से भायंदर के राजमार्ग और पद्मावती नगर गुंज उठा। पद्मावती नगर में सामैया के प्रवेश बाद धर्मसभा हुई। मंगलाचरण पूज्य आचार्य गुरुदेव ने फरमाया। दिप प्रज्वलन श्रीमती लीलाबाई रतिलालजी रेड, संजयभाई, गगनभाई परिवार के कर कमलों से हुआ। चातुर्मास धर्मधन प्राप्ति का अवसर है। चातुर्मास में ४ महिना विशेष आत्मा को जगाना है। जीवन उत्थान के मार्ग पर जाने के लिए द्वेष-ईष्र्या और आलस का त्याग करना होगा। चातुर्मास के अनमोल अवसर पर किया हुआ धर्म सत्कर्म, तप-त्याग-दान, जनसेवा धर्मसेवा से अगणित पूण्य प्राप्ति होती है। इससे ‘जो चाहोगे वो पाओगेÓ – सकल संघ को यह संदेश पूज्य आचार्य श्री विजय प्रभाकर सूरीश्वर महाराज अपने धर्मदेशना में दीया। दि. २२.७.२०१९ से ४५ दिन के सिद्धी तप की आराधना कराई जाएगी। इस आराधना में ३७ उपवास और ८ बियासणा होगा। चातुर्मास आयोजन में मुख्य आयोजक लाभार्थी श्रीमती पानीबाई भबुतमलजी रेड परिवार, श्रीमती लीलाबेन रतीलालजी रेड, संजयकुमार, गगनकुमार परिवार सरत (राज.) निवासी हाल बोरिवली। सह-आयोजक लाभार्थी स्व. श्री कपूरचंदजी लक्ष्मीचंदजी चंडालिया परिवार, श्रीमती पुष्पाबाई कपूरचंदजी चंडालिया, सादडी – राणकपुर (राज.) निवासी एवं श्रीमती प्रसन्नबाई साकलचंदजी परिवार, श्रीमती कमलाबेन उत्तमकुमारजी (मामा) तखतगढ़ (राज.) निवासी एवं श्रीमती चंद्रकलाबेन राजमलजी आंजनीया परिवार, श्रीमान रविभाई राजमलजी आंजनीया परिवार, सहयोगी के लाभार्थी श्रीमती प्रेमलताबेन भंवरलालजी बाफना परिवार, किर्ती राकेशजी बाफना मोकलसर (राज.) निवासी है।

पूज्य आचार्य गुरुदेव के प्रवेश स्वागतोत्सव में समारोह प्रमुख स्थान पर लोकप्रिय आमदार नरेन्द्र मेहता, विशेष अतिथि के स्थान पर मीरा-भायंदर के महापौर श्रीमती डिम्पल मेहता एवं अतिथि विशेष में पूर्व महापौर श्रीमती गीता जैन, शताब्दी गौरव के संपादक सिद्धराज लोढ़ा, आगाशी तीर्थ समवसरण मंदिर के मेनेजिंग ट्रस्टी मुकुंद जे शाह-मलाड, प्रविण जे. राठौड, हरकचंद पी. गादिया, जयंतिलाल अेस जैन, सुरेन्द्र एल छेडा, कनक अे जैन पधारे थे। भायंदर के नगर सेवक सुरेश खंडेलवाल, डा. सुशील अग्रवाल, ध्रुवकिशोर पाटिल आदि की विशेष उपस्थिति थी। प्रसिद्ध वक्ता ललित परमार ने सुंदर सभा संचालन किया। संगीतकार भरत ओसवाल ने संगीत सुरों के साथ सबको संगीत रस में लीन बनाया।

चातुर्मास के दौरान पूज्य गुरुदेव की पावन निश्रा में श्रावण सुद. ११, ११ अगस्त, २०१९, रविवार के शुभ दिन पाश्र्व पद्मावती महादेवी का विशिष्ट आयोजन के साथ भव्य महापूजन आयोजित है। यह महापूजन विश्वशांति के साथ सकल संघ के लिए उन्नति दाता और सर्व सिद्धी प्रदाता बने इस हेतु से सकल संघ के कल्याण हेतु प्रतिवर्ष पढाया जाता है। पूज्य आचार्य श्री विजय प्रभाकर सूरीश्वर महाराज की पावन निश्रा में पिछले ३५ साल से अविरत श्री पाश्र्व पद्मावती महापूजन प्रतिवर्ष चातुर्मास में आयोजित होता है। भाग्यशाली को अवश्य लाभ लेने का संघ की ओर से हार्दिक आमंत्रण है। आयोजन को सफल बनाने में संघ के सक्रिय कार्यकर्ता विपीन गेमावत, कल्पेश, उत्तम, संजय रेड़ का महत्वपूर्ण योगदान रहा।