भारत जैन महामंडल द्वारा भगवान महावीर स्वामी के २६१८वें जन्म कल्याणक महोत्सव...

भारत जैन महामंडल द्वारा भगवान महावीर स्वामी के २६१८वें जन्म कल्याणक महोत्सव का भव्य आयोजन

SHARE

मुंबई। सकल जैन समाज की संस्था भारत जैन महामंडल द्वारा भगवान महावीर स्वामी का २६१८वां जन्म कल्याणक महोत्सव दादर योगी सभागृह में मनाया गया। दीप प्रज्ज्वलन वरिष्ठगणों द्वारा किया गया। मंगलाचरण मानसी जैन ने किया। आचार्य सागरचंद्र सागर सूरीश्वरजी म.सा. ने मंगल प्रवचन में कहा कि धर्म संस्था एवं समाज के आधार पर टिकी हुई है। भगवान महावीर ने आत्म साधना से ज्ञान के सर्वोच्च शिखर पर पहुंच कर जन को समता, सहिष्णुता, मैत्री एवं करुणा का संदेश दिया। गच्छाधिपति आचार्य भावचंद्र विजय म.सा. ने भगवान महावीर के संदेश जियो और जीने दो पर प्रकाश डाला।

मुनि महेन्द्रकुमार म.सा. ने कहा कि अहिंसा मार्ग के अस्त्र को अपनाकर विश्व विजेता बनने की शक्ति का मंत्र है। सत्य, शांति, अहिंसा के पथ पर विचरण करने वाला ही भगवान महावीर की पदवी पा सकता है। उन्होंने वर्तमान को वर्धमान बनाने हेतु आशीर्वाद प्रदान किया। समारोह के मुख्य अतिथि भरतकुमार जैन, समारोह अध्यक्ष प्रकाश बी. जैन, स्वागताध्यक्ष मूलचंद पाटनी थे। विशिष्ट अतिथि फिल्म अभिनेता जितेन्द्र ने कहा कि जैन संत अंधकार को प्रकाशित करने वाले होते हैं। हिंसा,  चोरी, परिग्रह आदि दुर्गुणों से मुक्त होकर श्रावक मानव से महामानव की प्रेरणा भगवान महावीर ने दी। एस. एल. जैन, आदित्य जैन, एस. के. जैन, पदमकुमार सोनी, अजय सेठी, सम्मानीय अतिथि विधायक राज के. पुरोहित, मंगलप्रभात लोढ़ा, राजेन्द्र पाटनी ने भगवान महावीर के जीवन आधारित उद्बोधन दिया। आयोजन में उच्च शिक्षा से उत्तीर्ण रौनक सिंघवी, सिद्धांत भंडारी का प्रशस्ति पत्र से बहुमान किया गया। भगवान महावीर स्वामी के जीवन पर सांस्कृतिक प्रोग्राम पेश किया गया। संचालन युगराज जैन ने किया। आयोजन के विशेष सहयोगी श्रीमती शांताबेन मीठालालजी जैन, श्रीमती गीता भरतजी जैन परिवार का बहुमान किया गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष के सी जैन ने कहा कि संसार में चारों और अनाचार, अत्याचार, भ्रष्टाचार, घृणा, रागद्वेष का वातावरण तैयार हो रहा है। इसकी रोकथाम के लिए भगवान महावीर के संदेशों को आत्मसात करना होगा। महामंत्री तरुण काला ने कहा कि हम परहित के लिए जीएं और परोपकार तथा सदाचार को जीवन का अभिन्न अंग बनायें। समाज की युवा प्रतिभाओं को आगे लाएं। उन्हें सर्वगुण संपन्न बनायें। जिससे समाज एवं राष्ट्र का नव निर्माण हो। विधायक मंगलप्रभात लोढ़ा ने लोकसभा चुनाव में जैन समाज के किसी व्यक्ति को टिकट नहीं मिलने पर दु:ख व्यक्त किया। कार्यक्रम में पूर्व अध्यक्ष रमेशकुमार धाकड़, चम्पालाल वर्धन के साथ देवेन्द्र भाईजी, मदनलाल मुठलिया, किशोर खाबिया, सलिल लोढ़ा, सिद्धराज लोढ़ा, पारस गोलछा, उगमराज लुणावत, सी.सी. डांगी, किशन डागलिया सहित कई गणमान्य उपस्थित थे।

आयोजन यादगार बनाने राष्ट्रीय अध्यक्ष केसी जैन, महामंत्री तरुणकुमार काला, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बाबूलाल बाफना, सुरेश हिसावत, शिखरचंद पहाडिया, युवा अध्यक्ष बी.सी. भलावत, महिला विभाग अध्यक्षा गीता जैन, मंत्री सीमा गंगवाल, मीठालाल सिंघवी, प्रशांत झवेरी, चतरलाल लोढ़ा, रोशन वडाला, डा. नेमीचंद धाकड़, संदीप जैन, मनोज जैन, सुरेश सिंघवी, जगदीश पाठक, अजयभाई के साथ संस्था के समस्त सदस्यों का पूर्ण सहयोग रहा।