राष्ट्रसन्त आचार्य देवेश श्री चन्द्राननसागर सूरीश्वरजी म.सा. की पावन निश्रा में-श्री मेवाड़...

राष्ट्रसन्त आचार्य देवेश श्री चन्द्राननसागर सूरीश्वरजी म.सा. की पावन निश्रा में-श्री मेवाड़ भवन पालीताना में महामांगलिक का आयोजन संपन्न

SHARE

पालीताणा। राष्ट्रसन्त, जन जन के आस्था केन्द्र, महामांगलिक सम्राट, परम पूज्य आचार्य देवेश श्री चन्द्राननसागर सूरीश्वरजी म.सा. का विघ्नविनाशक, शान्तिप्रदायक मंगलकारी महामांगलिक महासुद 1 को प्रात: प्रथम तीर्थधिराज श्री आदेश्वरदादा की शीतल छाया से सुशोभित श्री शन्त्रुजय महातीर्थ के मेवाड़ भवन में सम्पन्न हुआ। प्रसिद्ध जैन संगीतकार की स्वर लहरियों के मध्य पूज्य गुरुदेव के मुखारबिंद से महामांगलिक श्रवण हेतु श्री मेवाड़ भवन पालीताना के इन्द्रसिंह धूपिया, मोहन पामेचा, अशोक बाफणा, श्रीपाल कोठारी, श्री नाकोड़ा भैरव दर्शन तीर्थधाम के ट्रस्टी सुरेशभाई (रॉयल चैन), श्री नाकोडा तीर्थ मेवानगर के ट्रस्टी अशोक सहित विभिन्न पदाधिकारी, सैकड़ो गुरुभक्त तथा धर्मप्रेमी उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि विगत 45 वर्षों पूर्व दादा गुरुदेव श्री दर्शनसागर सूरीश्वरजी महाराज द्वारा स्थापित श्रीसंघ को महामांगलिक प्रदान करने की स्वस्थ व उज्ज्वल परम्परा का निर्वहन करते हुए पूज्य आचार्य भगवन्त श्री चन्द्राननसागर सूरीश्वरजी म.सा. ने उसे ओर अधिक विस्तारित किया हैं। जिसके परिणाम स्वरूप हर महीने दूर सुदूर क्षेत्रो से हजारों धर्मप्रेमी गुरुभक्त बंधुगण अबाधित रूप से महामांगलिक श्रवण हेतु अवश्य उपस्थित होते है।