सादडी का त्रि-दिवसीय ‘उड़ान’ स्नेह सम्मेलन २९ दिसम्बर से

सादडी का त्रि-दिवसीय ‘उड़ान’ स्नेह सम्मेलन २९ दिसम्बर से

SHARE

सादड़ी। अरावली पर्वत की गोदमाला में विश्व विख्यात राणकपुर तीर्थ तथा परशुराम महादेव की तपोभूमि की छत्र छाया कुंभलगढ़ अभ्यारण में बसी धर्मनगरी सादडी का त्रिदिवसीय ‘उड़ान’ स्नेह सम्मेलन २०१८ श्री सादडी जैन संघ सादडी (राणकपुर) के तत्वाधान में २९ दिसंबर २०१८ शनिवार प्रात: ९ बजे से आरंभ होने जा रहा है।

सम्मेलन संयोजक के सदस्य प्रदीप जी. राठौड ने हमारे संवाददाता को बताया कि कार्यक्रम ‘उड़ानÓ का उद्घाटन प्रमुख अतिथि श्री जितेन्द्रकुमार रांका (पूर्व न्यायाधीश, राजस्थान हाई कोर्ट), विशेष अतिथि श्री सुनिल सिंघी, (सदस्य-राष्ट्रीय अल्प संख्यक आयोग, भारत सरकार, नयी दिल्ली) एवं श्री सुधीर शर्मा (आइएएस जिला कलेक्टर और मजिस्ट्रेट-पाली) की उपस्थिती में सादडी नगरी, नयी आबादी में संपन्न होगा। उद्घाटन शोभायात्रा श्री न्याति नोहरा से आरंभ होगी। प्रथम दिन शनिवार को प्रात: १० बजे रंगोली, चित्रकला, पेंटिंग स्पर्धा (न्याति नोहरा) में, प्रात: ८ बजे सादडी प्रिमीयर लीग २०१८ का उद्घाटन एवं टीम ड्रा, १० बजे से डीएमबी हाईस्कूल प्रांगण में मैच की शुरुआत होगी। १.३० बजे से श्री सादडी नगरी में महिलाओं के लिए ‘स्मार्टजोनÓ का आयोजन, ७ बजे से बहुमान सिल्वर श्रेणी (स्मृति चिन्ह प्रदान) कर एवं रात्री ८ बजे मनोरंजन कार्यक्रम ‘शक्तिÓ नाटक का कार्यक्रम होगा। द्वितीय दिवस रविवार ३०.१२.२०१८ को प्रात: ६ बजे से फुल मेरोथन १० कि.मी. एवं हाफ मेराथॉन ५ कि.मी. होगी जिसके ब्रांड एबेंसडर श्री शैलेष लोढ़ा (तारक मेहता फेम) होंगे। प्रात: ८ बजे सादडी प्रिमीयर लीग (डीएमबी हाईस्कूल प्रांगण) दोपहर २ बजे से असाध्य बिमारीयों को साध्य करने वाले डाक्टरर्स और उस बिमारी का हिम्मत से सामना करने वाले पेशंटस का अनुठा कार्यक्रम ‘हिंलिंग हार्मनीÓ का आयोजन होगा। शाम ७ बजे बहुमान गोल्ड तथा प्लेटिनम श्रेणी का स्मृति चिन्ह प्रदान कर, रात ८ बजे से श्री शैलेष लोढ़ा (तारक मेहता फेम) एवं साथी कविगणों द्वारा हास्य कवि सम्मेलन का आयोजन होगा। तृतिय दिवस – सोमवार ३१ दिसम्बर को प्रात: ८ बजे से सादडी प्रिमीयर लीग का सेमीफाइनल एवं फाइनल (डीएमबी हाईस्कूल प्रांगण में), सुबह ९ बजे भावुक, मार्मिक एवं हृदयस्पर्शी संगीतमय प्रस्तुति ‘मां बाप को मत भूलनाÓ, दोपहर ३ बजे से भव्य समापन समारोह का आयोजन जिसमें प्रमुख अतिथि श्री पी.पी. चौधरी (केन्द्रीय राज्यमंत्री विधि वं न्याय/कोर्पोरेट कार्य, भारत सरकार) एवं विशेष अतिथि श्री कुलदीप रांका (प्रमुख शासन सचिव, पर्यटन, कला,संस्कृति, वन और पर्यावरण विभाग) होंगे। कार्यक्रम में बहुमान सभी डायमंड श्रेणी के स्मृतिचिन्ह प्रदान किए जायेंगे। रात ८ बजे से मनोरंजन कार्यक्रम, म्युजिकल प्रस्तुति एवं नव वर्ष स्वागत का भव्य आयोजन होगा।

सम्मेलन संयोजक सदस्य रमेश एफ रांका के अनुसार राणकपुर दर्शन के साथ श्री राणकपुरजी मंदिरजी को तीनों दिन १००८ दीपों से सुशोभित किया जाएगा। ३१ दिसंबर को राणकपुर में ४०३२ दीपक प्रज्वलित किये जायेंगे।तीनों दिन नाश्ता-भोजन को कार्यक्रम खाना खजाना कक्ष श्री सादडी नगरी में सुबह ६.३० से ७.३० बजे चाय, कॉफी, ७.३० से ९.३० बजे तक नाश्ता, दोपहर ११ से १.३० बजे तक दोपहर का भोजन, ३.३० बजे से ४.३० बजे नाश्ता (हायटी) शाम ५ से ७.३० बजे तक चौविहार एवं शाम का भोजन, रात ९ बजे से ११ बजे तक दूध जलेबी, सूतरफीणी एवं कुल्फी के साथ होगा। दिनांक १ जनवरी २०१९ मंगलवार को ७.३० बजे ९.३० बजे नाश्ता एवं सुबह १०.३० बजे से ११.३० बजे तक अल्पाहार होगा। सम्मेलन के आधार स्तंभ के रुप में कोहिनूर डायमंड, स्टार डायमंड, डायमंड, प्लेटिनम, गोल्ड एवं सिल्वर श्रेणी के सदस्यों का योगदान है। सम्मेलन का यादगार एवं सफल बनाने के लिए जनरल समिति, मंदिर सजावट समिति, मायनोरेटी सर्टिफिकेट समिति मेरथॉन समिति, भोजन मंडप व्यवस्था, फाइनेंस समिति, भोजन समिति, मेडिकल समिति, लीगल, युआडी समिति स्वागत कक्ष, ट्रान्सपोर्ट, किड्स कार्निवल, महिला कार्यक्रम समिति, प्रिन्टींग समिति, आवास निवास व्यवस्था समिति, एवं मंडल व्यवस्था समिति का गठन किया गया है। कार्यक्रम को सफल बनाने में श्री सादडी जैन संघ के सदस्य एवं सभी समितियों के सदस्य जुटे हुए। महिलाओं के द्वारा आयोजित कार्यक्रम हेतु सभी महिलाएं सदस्याएं भी उत्साह पूर्वक जुटी हुई। सभी नगर वासीयों में सम्मेलन को लेकर उत्साह हैं। पूणे, बैंगलूर, मुंबई, चैन्नई, सूरत, कोयम्बटूर सहित देश के सभी क्षेत्रों से सादडी निवासी हजारों की संख्या में उपस्थित रहकर सम्मेलन महोत्सव को स्मरणीय बनाएंगे।

सम्मेलन संयोजक – खुबीलाल राठौड़ (मुंबई), फतेचंद एन रांका (पुणे), विमलचंद एम धोका (मुंबई), प्रदीप जी राठौड (मुंबई), रमेश एफ रांका (मुंबई), हेमंत पी. जैन (मुंबई), भरत सी. रांका (सूरत), नवरतन पुनमिया – (मुंबई), पप्पु वी. राका (मुंबई), विमल पामरेचा (सूरत), पुष्पराज कावेडिया (पुणे)।

सम्मेलन समिति सदस्य – पोपटलाल सुंदेशा (मुंबई), विजयराज सी राठौड (मुंबई), सुभाष ओसवाल – (पुणे), दिलीप सी पालरेचा (इंदौर), रमेश बाफना (कोइम्बतूर), कांति मेहता (मुंबई),  मनोज ढेलारियावोरा (मुंबई), अशोक ओ गुंगलिया (मुंबई), ललित बी. करबावाला (बैंगलौर), कांतिलाल एम. चंडालिया (बैंगलोर), भूपेश पी. बाफना (मुंबई), निमित पुनमिया (मुंबई), पुलकित बाफना (मुंबई), हितेश जैन (मुंबई), अमृत सोलंकी (पुणे), गिरीश राठौड (मुंबई), जितेन्द्र गुर्जर (मुंबई), अशोक छाजेड (सूरत), हसमुख राठौड (मुंबई), हेमंत गोयल (मुंबई) शामिल है।