शांतिलाल कवाड़ मलावी गणतंत्र के माननीय कॉन्सुल नियुक्त

    SHARE

    मुंबई। मारवाड़ की मरुधरा विस्तार में ऐसी अनेक शख्सियत मौजूद हैं जिन्होंने अपने व्यक्तित्व एंव कर्तव्य के बल पर मारवाड़ की धरा को गौरवान्वित किया हैं। मारवाड़ पाली के निवासी एंव मुम्बई प्रवासी वीर शांतिलाल कंवाड़ उन्हीं में से एक हैं। श्री कंवाड़ को ईस्ट अफ्रीका के मलावी विस्तार का मानद कॉन्सुलर (Honorary Consular) मुंबई क्षेत्र के लिए मनोनीत किया हैं। सात समंदर पार विदेशी धरा पर  इतना बड़ा सम्मान मिलना बहुत बड़ी उपलब्धि हैं। यह मनोनयन वहां के राष्ट्रपति आदि बड़ी हस्तियों की अनुशंसा पर ही हो पाता हैं। यह श्री कवाड़ के व्यक्तित्व का करिश्मा ही हैं कि अपने दूरदृष्टि व सूझबूझ के बल पर उनके व्यक्तित्व की खुशबू सर्वत्र फैली हुई हैं। अतीत में अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में आपके सुदृढ़ नेतृत्व में महावीर इंटरनेशनल जैसे लोकप्रिय संगठन ने सेवा के क्षेत्र में अनेक नए आयाम स्थापित किए।

    वर्तमान में आप जैन समुदाय की सर्वाधिक लोकप्रिय संस्था JITO अपेक्स के प्रेसिडेंट के रूप में नेतृत्व प्रदान कर रहे हैं। JITO के उद्गम एंव विकास का जब-जब जिक्र आता है, तब-तब अन्य संस्थापक सदस्यों के साथ-साथ शांतिलाल कंवाड़ का भी उल्लेख अवश्य आता है। आज JITO जिस शीर्ष स्थान पर व लोकप्रियता के शिखर पर पहुंची हैं तो इस विकास यात्रा में श्री कवाड़ का समर्पण अद्वितीय रहा हैं। यही वजह हैं कि JITO अब अन्य समुदायों के लिए प्रेरणा का स्त्रोत बन कर दिशा प्रदान करने में सक्षम भूमिका निभा रही हैं। मायानगरी मुम्बई का सामाजिक क्षेत्र हो या फिर धार्मिक, या फिर व्यवसाहिक, तमाम क्षेत्रों में एक से बढ़ कर एक हस्तियां मौजूद हैं। लेकिन इन तमाम क्षेत्रों में श्री कवाड़ एक ऐसे व्यक्तित्व के रूप में उभरे हैं कि जिन्होंने अपनी अद्वितीय प्रतिभा व सतत जागरूकता से अपनी एक विशिष्ठ पहचान बनाई हैं। यही वजह हैं कि श्री कवाड़ एक आइकॉन के रूप में उभरे हैं। वे युवाओं के आदर्श है, तथा बड़ी उम्र के लोगों के बीच में भी सम्मानीय रूप में स्वीकारे जाते हैं। छोटा हो या बड़ा, कोई वर्ग ऐसा नही की शांतिलाल कवाड़ की प्रतिभा से अनभिज्ञ हो। वे एक मंजे हुए वक्ता है तो वे एक प्रेरक मोटिवेटर भी हैं। वे एक सुलझे हुए समाज सुधारक है तो वे साथ ही साथ एक मिलनसार व्यक्तित्व भी हैं। श्री कवाड़ एक सफल उद्योगपति के रूप में ख्यातनाम हस्ती हैं, टेक्सटाइल्स इंडस्ट्रीज में विजयलक्ष्मी टेक्सटाइल्स एक ऐसा नाम हैं जो कि ब्लाउज आदि ड्रेस मटेरियल्स के क्षेत्र में कई दशकों से एक लोकप्रिय ब्रांड के रूप में स्थापित हैं। टेक्सटाइल के साथ-साथ रियल इस्टेट में भी विजय लक्ष्मी ग्रुप एक विश्वसनीय नाम है। जोगेश्वरी ईस्ट, अंधेरी ईस्ट, गोरेगांव ईस्ट में कई प्रोजेक्ट्स के साथ पुणे में एक टाउनशिप भी शामिल है। श्री कवाड़ का व्यक्तित्व ही ऐसा ही अनूठा हैं कि पद व प्रतिष्ठा इनके साथ छाए से पीछा करते हुए परिक्रमा करते हैं। देश की लोकप्रिय व्यवसायिक एसोसिएशनों में से एक हिंदुस्तान चेम्बर्स ऑफ कॉमर्स को वर्षों तक आप शीर्ष पदों पर सेवाएं प्रदान करते रहे। फि़क्क़ी जैसी राष्ट्रीय संस्था में आपका वर्षों से जुड़ाव रहा हैं। भारत जैन महामण्डल जैसी लोकप्रिय संस्था के आप 12 वर्षों तक उपाध्यक्ष पद पर पदासीन रहे। वर्तमान में जैन सेवा संघ मुम्बई के आप यशस्वी अध्यक्ष रूप में मनोनीत हैं। ऐसी दर्जनों संस्थाएं है जिनको आपका अनवरत मार्गदर्शन मिलता आ रहा हैं। आप जहां एक सफल उद्योगपति व समाजसेवी है, वहीं आप एक उदारमना हृदय के दानदाता भी हैं। स्कूल हो या कॉलेज, धर्मशाला हो या सामुदायिक भवन, तीर्थ निर्माण हो या मंदिर निर्माण, हॉस्पिटल हो या और कोई सार्वजनिक निर्माण। सर्वत्र आपका योगदान मुक्त हस्त से मिलता हैं। यही वजह हैं कि अवार्ड, सम्मान आदि आपके व्यक्तित्व के साथ समाए हुए हैं। गत वर्ष पुष्कर में महावीर इंटरनेशनल के 27 वें अंतरराष्ट्रीय अधिवेशन में वीर शांतिलाल कवाड़ को ‘लाइफटाइम एचीवमेंट अवार्डÓ से सम्मानित किया गया। अतीत में आप श्री को पूर्व राष्ट्रपति शंकरदयाल शर्मा द्वारा ‘उद्योगपति अवार्डÓ से नवाजा गया था। इसके अलावा आपको देश के लोकप्रिय समाचार पत्र शताब्दी गौरव द्वारा ‘शताब्दी रत्नÓ तथा ‘इंडस्ट्रीज एचीव अवार्डÓ भी प्राप्त हो चुका हैं। ऐसे विरले व्यक्तित्व की उपलब्धियों पर न सिर्फ जैन समुदाय, न मात्र पाली, मुम्बई या मारवाड़ बल्कि सम्पूर्ण राजस्थान व पूरा देश गौरवान्वित हैं व नाज करता हैं। आप उपलब्धि भरे कीर्तिमान इसी तरह स्थापित करते रहे।