पुलिस कर्मियों के लिए साइबर-क्राइम वर्कशॉप का आयोजन

पुलिस कर्मियों के लिए साइबर-क्राइम वर्कशॉप का आयोजन

SHARE

भायंदर। ठाणे (ग्रामीण) क्षेत्र के मीरा-रोड और भायंदर विभाग के पुलिस कर्मियों के लिए पिछले दिनों एक दिवसीय ‘साइबर क्राइम एंड साइबर लॉÓ वर्कशॉप का आयोजन लायंस क्लब ऑफ़ मीरा भायंदर गैलेक्सी द्वारा किया गया था। इस वर्कशॉप द्वारा तेजी से बढ़ रहे डिजिटल अपराधों के बारे में जानकारी और उनसे निपटने के लिए कानून और क्रियाओं के बारे में सभी को अवगत कराया गया।

साइबर विशेषज्ञ सचिन केडिया और एडवोकेट पंकज बाफना ने इस वर्कशॉप का मार्गदर्शन किया। सहायक अधीक्षक अतुल कुलकर्णी के अनुसार आज के डिजिटल युग में पुलिस को कई माध्यम से फायदा हुआ हैं पर साइबर सबंधित अपराधों से निपटना आज भी कठिन हैं। ऐसे वर्कशॉप द्वारा हमें जानकारी भी मिलती हैं और डिजिटल साधनों को उपयोग करने के लिए आत्मविश्वास भी बढ़ता है। पुलिस द्वारा तहकीकात में उपयोग की जा रही नयी तकनीकों और कानूनी दृष्टीकोण को समझने के साथ-साथ पुलिस कर्मियों को साइबर फॉरेंसिक साधनों और साइबर अपराधों के सैद्दांतिक बिन्दुओं के बारे में बताया गया। इस वर्कशॉप में वरिष्ठ पुलिस इंस्पेक्टर वसंत लब्धे (मीरा रोड), वरिष्ठ पुलिस इंस्पेक्टर राजेंद्र काम्बले (भायंदर), वरिष्ठ पुलिस इंस्पेक्टर वैभव शिंगारे (काशी-मिरा), वरिष्ठ पुलिस इंस्पेक्टर राम भालसिंह (नवघर), वरिष्ठ पुलिस इंस्पेक्टर बालाजी पंधरे (नया नगर) और सहायक पुलिस इंस्पेक्टर प्रवीण सालुंखे (उतन) सहित कई पुलिसकर्मियों ने हिस्सा लिया।

वरिष्ठ पुलिस इंस्पेक्टर राजेंद्र काम्बले ने बताया कि यह एक ज्ञानवर्धक वर्कशॉप रहा. इससे हमें साइबर अपराधों के विभिन्न रूप और उनसे जूझने के तरीकों के बारे में विस्तार से जानकारी दी गयी जिससे हमें भविष्य में ऐसे मामलों को सुलझाने में सहायता मिलेगी।