खौड़ में सायरबाई लालचंद संचेती चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा निर्मित आरओ प्लांट एवं...

खौड़ में सायरबाई लालचंद संचेती चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा निर्मित आरओ प्लांट एवं गार्डन का उद्घाटन

SHARE

खौड। केंद्रीय राज्यमंत्री विधि तथा को-ऑपरेट मंत्री पीपी चौधरी ने कहा कि खौड़ गांव में भामाशाहों की कमी नहीं है। वे खौड़ गांव में सायरबाई लालचंद संचेती चेरिटेबल ट्रस्ट द्वारा नवनिर्मित आयुर्वेदिक हॉस्पिटल के मुख्य द्वार आरओ प्लांट एवं गार्डन के उदघाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भामाशाह अपनी गाढ़ी कमाई का पैसा अपनी जन्मभूमि पर खर्च करते हैं, यह बड़े गौरव की बात है। गांव के लोगों के लिए आरओ लगाकर शुद्ध पानी की व्यवस्था की है, यह सराहनीय कदम है। इस मौके पर उप मुख्य सचेतक मदन राठौड़ ने कहा कि प्रवासी बंधु बाहर से पैसा कमा कर पुण्य अर्जित करने के कार्य में लगाते हैं। उन्होंने इसके लिए भामाशाहों का आभार प्रकट किया।

कार्यक्रम में आचार्य देवेश म.सा. तथा लेखेश सूरीश्वर महाराज ने कहा कि उनके पास देने के लिए तो कुछ नहीं है, लेकिन भामाशाह परिवार को लंबी उम्र का आशीर्वाद जरूर देता हूं। इस अवसर पर बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद थे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री पीपी चौधरी ने कहा कि खौड़ गांव में सांसद कोष द्वारा 15 लाख की लागत से सौर लाइटें लगाकर गांव की हर गली- मोहल्ला को रोशन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि गांवों के विकास में धन की कोई कमी नहीं रहेगी।

ट्रेस्ट के चेयरमैन रवि संचेती ने सभी मेहमानों का स्वागत किया एवं आभार प्रकट किया। खौड़ गांव में आचार्य देवेश, लेखेश सूरीश्वर महाराज का मंगल प्रवेश बैंडबाजों व मंगल गीतों के संग प्रवेश हुआ। इस दौरान यूआईटी चेयरमैन संजय ओझा, वरिष्ठ समाजसेवी लालचंद संचेती, घीसूलाल संचेती, रतनचंद संचेती, अशोक संचेती, मदन संचेती, रानी प्रधान नवरत्न चौधरी, सांसद प्रतिनिधि राकेश भाटी, पूर्व सरपंच रूपेश दाधीच, मुकेश चौधरी, नंदकिशोर परिहार, विजयसिंह चांचोडी, श्री वरकाणा तीर्थ के अध्यक्ष प्रवीण लुनिया, खौड नमिनाथ जैन संघ के अध्यक्ष उगमराज तेलिसरा, श्री वरकाणा तीर्थ के कोषाध्यक्ष अशोककुमार तापडिया, समाजसेवी अशोक पारेख, चंदु भंसाली, तेजराज भंसाली, उगमराज लोढ़ा, मांगीलाल पुनमिया, रमेश बी. संचेती, खुशपतराज संचेती, महेन्द्र तेलिसरा, कनकराज मेहता, बाबुलाल पुनमिया, फतेचंद लोढ़ा, दिनेश जे. शाह सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।