लोढ़ा परिवार द्वारा दो दिवसीय तिर्थाटन का आयोजन

लोढ़ा परिवार द्वारा दो दिवसीय तिर्थाटन का आयोजन

SHARE

मुंबई। खौड निवासी समाजसेवी मदनराज राजमलजी लोढ़ा परिवार द्वारा दो दिवसीय तिर्थाटन आयोजन पारिवारिक सदस्यों के साथ शानदार रुप से संपन्न हुआ। मुंबई से सूर्यनगरी एक्सप्रेस से यात्रा का आरंभ होकर जोधपुर पहुंचा। वहा से बसो द्वारा विख्यात प्राचिन तीर्थ कापरडाजी में दर्शन एवं अल्पाहार कर श्री फलवृद्धि पार्श्र्वनाथ तीर्थ मेडता तीर्थ पहुंचा वहा पर दर्शन सेवा, पूजा एवं भोजन कर श्री बड़माताजी हेतु प्रस्थान किया बड़माताजी में दर्शन, वंदन एवं आरती की। आरती का लाभ श्री लोढ़ा परिवार द्वारा लिया। यहां पर लोढ़ा बास के सदस्यों द्वारा मदनराजजी लोढ़ा, अनिल लोढ़ा, अमित लोढ़ा, श्रीमती मीना लोढ़ा, श्रीमती उषा लोढ़ा, श्रीमती कंचनबेन बाबुलालजी नाहर एवं श्रीमती संतोष सुरेशजी मेहता का शाल, चुनरी व श्रीफल देकर बहुमान किया गया। इस अवसर पर खीमराज लोढ़ा, मुलचंद लोढ़ा, दिनेश लोढ़ा, सिद्धराज लोढ़ा, उगमराज लोढ़ा, प्रकाश लोढ़ा, महेन्द्र लोढ़ा, महावीर लोढ़ा, प्रवीण लोढा, बाबुलाल लोढ़ा, हसमुख लोढ़ा, रमेश लोढ़ा, बाबुलाल पुनमिया, दिनेश जे. शाह सहित कई गणमान्य सदस्य उपस्थित थे।

बड़माताजी से भोजन कर नाकोड़ा तीर्थ पहुंचकर भैरव भवन (रांका) में विश्राम किया। सुबह सेवा पूजा एवं आरती एवं भक्ति का लाभ लिया। वहा पर शताब्दी गौरव परिवार, यात्रियों एवं स्वजनों द्वारा आयोजकों एक अभिनंदन पत्र देकर सम्मानित किया। इसमें श्रीमती बबीबेन मदनराजजी लोढ़ा द्वारा की गई अनगिनत उग्र तपस्याओं हेतु अभिनंदन किया गया। सभी बहन-बेटियों, परिवारजनों, स्वजनों ने भी लोढ़ा परिवार का शाल एवं माला द्वारा सम्मानित किया। आयोजक परिवार द्वारा सुंदर रुप से पूरी व्यवस्था की गई थी। सभी यात्रीयों को लोढ़ा परिवार द्वारा स्मृति स्वरुप चांदी का सिक्का प्रदान किया। संघ यात्रीयों में कांतिलाल बोकडिया, सुरेश मेहता, मगराज पुनमिया, सुरेश बाफना, जयंतिलाल पुनमिया, बस्तीमल परमार, अशोक चौपड़ा, भंवरलाल सोलंकी, विमल सोलंकी, जितु जैन सहित स्वजन एवं परिवार जन उपस्थित थे।