‘We can’ नारा नहीं, सशक्तीकरण का सार्थक कदम है – साध्वी निर्वाणश्री

‘We can’ नारा नहीं, सशक्तीकरण का सार्थक कदम है – साध्वी निर्वाणश्री

SHARE

अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर विशेष आयोजन

नासिक। विश्व महिला दिवस पर विविध आयोजनो व रैली के माध्यम से नासिक तेरापंथ महिला मंडल ने अपने कार्यो का नया अभिलेख लिखा। विदुषी साध्वीश्री निर्वाणश्रीजी के पावन सानिध्य व प्रेरणा तथा डा. साध्वीश्री योगक्षेम प्रभाजी के कुशल निर्देशन में महिलाओं ने संगठित होकर ‘We can’ का जीवन्त परिचय दिया। श्रीमती स्नेहा जैन ‘बोहराÓ की अध्यक्षता में सेमिनार से पूर्व जागरुकता गोष्ठी का आयोजन हुआ। इसमें सभी बहनों को रैली को अविस्मरणीय बनाने की जिम्मेदारी सौंपी गई।

८ मार्च दोपहर को विदुषी साध्वीश्री निर्वाणश्रीजी के पावन सानिध्य में ‘Woman Empowerment’ एवं विश्वकीर्तिमान रैली पर विदुषी साध्वीश्री निर्वाणश्रीजी ने कहा ‘We can’ एक नारा नहीं, महिला सशक्तीकरण की दिशा में एक सार्थक कदम है। ‘सशक्तÓ सही माने में तभी हो पाएगी, जब बुराइयों को त्यागें। ईष्र्या, असहिष्णुता, पक्षपात, द्वेष तथा मनमुटाव, संदेह जैसी नकारात्मकता से दूर हो। सकारात्मक चिन्तन व सकारात्मक निर्णय से ही संगठन मजबूत होगा। घर परिवार खुशहाल होगा।

प्रबुद्ध साध्वीश्री योगक्षेम प्रभाजी ने अपने प्रेरक वक्तव्य में कहा वह घर, परिवार, समाज या राष्ट्र धन्य है, जहाँ माँताएं जागरुक हैं। बहनें संस्कारी हैं। पूज्य गुरुदेव तुलसी ने महिला सशक्तीकरण का बीज बोया, आज पूज्य आचार्यश्री महाश्रमणजी के नेतृत्व में महिलाएं नया आसमां छू रही है। श्रीमती स्नेहा जैन ‘बोहराÓ ने अपने हृदय के भावों की अभिव्यक्ति के साथ वंदनीय महाश्रमणी साध्वीप्रमुखाश्रीजी के मंगल संदेश का वाचन किया। श्रीमती जागृति हिरण ने कर्मठ राष्ट्रीय अध्यक्ष कुमुद कच्छारा के संदेश का वाचन कर शुभकामनाएं दी।

कार्यक्रम का शुभारंभ महामंत्र से हुआ। श्रीमती नयना रांका, उर्मिला छाजेड, सज्जन चोरडिय़ा, संगीता गन्ना, प्रभा चौपड़ा, हेमा बाफना, श्रीमती भंडारी, जागृति हिरन, सीमा बैद, सारिका बोहरा आदि ने प्रेरणा गीत का संगान किया। इस मौके पर कर्मठ एवं श्रद्धाशील बहन शशिकला भंडारी का सम्मान ‘प्रेरणा सम्मानÓ के लिए श्रीमती सीमा बैद का चयन किया गया। सम्मानित किया गया मंच संचालन श्रीमती हेमा बाफना ने किया। अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल निर्देशित विश्व कीर्तिमान रैली की प्रक्रिया का शुभारंभ साध्वीवृंद के मंगलपाठ से हुआ।

नासिक रोड स्थित जैन स्थानक से एक नारी सशक्तीकरण रैली का प्रारंभ हुआ। केन्द्र निर्देशित समस्त प्रक्रियाओं के अनंतर रैली को प्रसिद्ध समाजसेवी एवं जीतो के जोनल प्रेसिडेंट ताराचंद गन्ना व श्रीमती संगीता गन्ना ने हरी झंडी दिखाई। We can, you can, I can के संदेश के साथ रैली ने नासिक रोड के विभिन्न स्थानों से मुनिसुव्रत जैन मंदिर जैन भवन होते हुए पुन: स्थानक में प्रवेश किया। इस मौके पर तेरापंथ सभा, नासिक अध्यक्ष सुरेश चोरडिया, डा. राजेन्द्र मंडलेचा अध्यक्ष स्थानकवासी संघ आदि विशेष रुप से उपस्थित रहे।

नासिक में तेरापंथ महिला मंडल का यह प्रथम किन्तु यादगार कार्यक्रम बन गया। इसकी पूरी सफलता से जहां गुरुवर का आशीर्वाद रहा, वहां साध्वीश्री की कृपादृष्टि सह कर्मठ बहनों की क्रियाशीलता रही। मां हितांश बैद के शेखर भंडारी आदि के अपेक्षित सहयोग से मार्ग और प्रशस्त बन गया। नासिक सिटी, देवलाली व नासिक रोड तीनों स्थानों पर एक-एक कार्यक्रम आयोजित हुआ। माला के मनकों १०८ की संख्या में बहनों की उपस्थिति से रैली नासिक की ऐतिहासिक रैली बन गई।