खिमेल यंगस्टर ग्रुप द्वारा आयोजित १०वां खिमेल प्रीमियर लीग संपन्न

खिमेल यंगस्टर ग्रुप द्वारा आयोजित १०वां खिमेल प्रीमियर लीग संपन्न

SHARE

मुंबई। इंडियन प्रीमियर लीग टी-२० क्रिकेट प्रतियोगिता ने देश भर को आकर्षित किया है। हर जगह ऐसे टूर्नामेंट होते आ रहे है। राजस्थान के गोड़वाड़ क्षेत्र के लगभग हर गांव में ऐसा आयोजन होता है या हर गांव की एक क्रिकेट टीम बन चुकी है। पर मुंबई में आयोजित खिमेल प्रीमियर लीग की बात कुछ और ही थी। गोडवाड की मरुधरा में स्थित खिमेल गांव हमेशा सामाजिक व नये ट्रेंड के लिए जाना जाता रहा है। तो इस बात का किसी को आश्चर्य नहीं होगा कि आईपीएल की तर्ज पर गोड़वाड में सबसे पहला टी-२० क्रिकेट टूर्नामेंट भी खिलेल के युवाओं ने ही शुरु किया था।

वर्ष २००७ में खिमेल में संस्थापित खिमेल यंगस्टर ग्रुप (KYG) ने २००८ में खिमेल प्रीमियर लीग की शुरुआत की। पिछले दिनों मुंबई में इस टूर्नामेंट के १०वें संस्करण का आयोजन बड़ी धूम धाम से संपन्न हुआ।

इस वर्ष केपीएल में कुल ७ टीमों ने हिस्सा लिया। पुरुष क्रिकेट टूर्नामेंट के अलावा तीसरी बार महिला क्रिकेट टूर्नामेंट का भी आयोजन हुआ जिसमें ५ टीमें थी। पुरुष टी-२० में खिमेल स्नेक्स (प्रायोजक-श्री शांतिनाथ रेसीडेंसी और सोलंकी ज्वेलर्स), खिमेल लायन्स (प्रायोजक-महाराजा स्टील और किवी इंटरनेशनल), खीमेल स्ट्राइकर्स (प्रायोजक-महावीर मेडिकल एण्ड मिरेकल), खिमेल डीसी (प्रायोजक-डायमंड क्रिएशन), खिमेल रॉकर्स (प्रायोजक-राजस्थान रेडीमंड और बीके ज्वेलर्स), खिमेल युवान (प्रायोजक-रतन कास्ट) और खिमेल टाइगर्स (प्रायोजक-रीवाज़ और प्रकाशजी पारेख)। महिला क्रिकेट टूर्नामेंट में खिमेल दिवस, खीमेल रॉयल दिवस, खिमेल स्मेशर्स, खिमेल वॉरीयर्स और खिमेल इवा टीम ने हिस्सा लिया।

KPL के १०वें संस्करण के विजेता खिमेल स्ट्राइकर्स (पुरुष) और खिमेल स्मेशर्स (महिला) रहें। इस वर्ष १०वें केपीएल की शुरुआत में एक हिम शिवलींग का अनावरण हुआ। इस शिवलींग का निर्माण श्री वर्वेश्वर महादेव मंदिर के आगामी प्रतिष्ठा के उपलक्ष में किया गया है। इस प्रतिष्ठा में जीर्णोद्धार का लाभ श्रीमती पीस्ताबाई बाबूलालजी खीमावत परिवार और श्री सुभाष बाबूलाल खीमावत द्वारा किया जाएगा। केपीएल के अवसर पर सुभाष खीमावत (डायमंड क्रियेशन, मुंबई/चैन्नई) के जुडवा पुत्र-पुत्री आगम और आन्या के जन्मदिन को भी धूमधाम से मनाया गया।

KYG खिमेल युवाओं का ग्रुप है जिसका संस्थापन १० वर्ष पहले हुआ। इस ग्रुप का मुख्य उद्देश्य सभी युवा खिमेल निवासीयों को एक छत्र के अंदर लाए जिससे आपस में मेलजोल बढ़े। पिछले दस वर्षो में क्रिकेट टूर्नामेंट के अलावा KYG ने कई सामामजिक कार्यो ब्लड डोनेशन कैम्प, गरिबों में आम रस वितरण, अनाथ आश्रम में अन्न-जल व्यवस्था, गरीबों में कंबल बांटना, जैसे कई कार्यो को लगातार अंजाम दिया है। चूंकि यह एक युवा ग्रुप है इसलिए सामाजिक कार्ये के साथ मनोरंजन कार्यो का भी आयोजन किया जाता है। KYG ने हमेशा चाहा है कि महिलाओं और लडकियों का भी समान अधिकार मिले। इसलिए महिला बॉक्स क्रिकेट टूर्नामेंट की शुरुआत की गई जो किसी अन्य गांव ने नहीं की थी। इसका नतीजा है कि पहली बार आयोजित इंटर विलेज लेडिज टूर्नामेंट एमटीसी मरुधर कप में खिमेल की टीम ने विजय प्राप्त की। इसके अलावा KYG ने ‘भाग खिमेल भागÓ नामक मेराथॉन का भी आयोजन किया था।

सुभाष खीमावत ने सभी विजेताओं को बधाई देते हुए कहा कि KYG ने परिश्रम और निष्ठा से खिमेल के युवाओं को जोडने का जो प्रयास किया है और निरंतर कर रहे है वह काबिल के तारीफ है। मुझे खुशी है कि खिमेल गांव में हर वर्ष कुछ नया किया जा रहा है। और हमारा गांव गोडवाड का ट्रेंड सेंटर बन चुका है।