नाकोड़ा महातीर्थ त्रिदिवसीय भैरव भक्ति महोत्सव का हुआ आयोजन

नाकोड़ा महातीर्थ त्रिदिवसीय भैरव भक्ति महोत्सव का हुआ आयोजन

SHARE

मेवानगर। पश्चिमी राजस्थान की धन्य धरा पर श्री नाकोड़ाजी महातीर्थे विराजित परमपिता परमेश्वर देवाधिदेव श्री नाकोड़ा पाश्र्वनाथ प्रभु की कल्याणकारी छत्रछाया में विशाल त्रिदिवसीय भैरव भक्ति महोत्सव का आयोजन परम पूज्य पंन्यास प्रवर गुरुदेव श्री लोकेन्द्रविजयजी गणिवर्जी म.सा. के परम शिष्यरत्न मंत्री मनीषी मुनिराज श्री लवकेशविजयजी म.सा. एवं तपध्यान निष्ठ मुनिराज श्री ललितेशविजयजी म.सा. आदि ठाणा की शुभ निश्रा में विविध पूजन-महापूजन के साथ सानंद संपन्न हुआ। आयोजक परिवार के संघवी अमृतलाल कटारिया ने बताया कि भक्ति महोत्सव निमित्ते प्रथम दिन दोपहर विजय मुहर्त श्री पाश्र्वाथ नाकोड़ा भैरव महापूजन, द्वितीय दिन प्रात: ९ बजे श्री पाश्र्वनाथ काल भैरव महापूजन सह तृतीय दिन सायं ६.३० बजे श्री काल भैरवदेव भक्ति महापूजन के साथ महोत्सव का समापन हुआ। सम्पूर्ण महोत्सव विधिविधान विधिकारक विद्वान पंडित नरेश कोरडिया ने कराया व संगीत की रमझट आकाशवाणी कलाकार किशोर देवड़ा एण्ड पार्टी ने जमाई। इस सम्पूर्ण महोत्सव का लाभ श्री नाकोड़ा भैवरजी के आदेश से मरुधर में बालोतरा निवासी परम भैरवदेव भक्त, उदारदिल, समाज गौरव, श्रेष्ठीवर्य संघवी अमृतलाल पुखराजजी कटारिया परिवार फर्म-महाभैरव मेटल इण्डस्ट्रीज मुंबई वालों ने लिया। ज्ञात रहे कि श्री नाकोड़ा महातीर्थ सर्वप्रथम श्री काल भैरवदेव का महापूजन भी इन्ही मुनि भगवंतो की पावनतम निश्रा में हुआ था। और पावन प्रतिष्ठा महोत्सव के बाद भी सर्वप्रथम महापूजन भी इन्ही की पावन निश्रा में बड़े ही धूमधाम के साथ सानंद संपन्न हुआ। दोनों महापूजन के लाभार्थी बनने का सौभाग्य श्री कटारिया संघवी परिवार ने ही लिया था।