जीतो गेम्स का मतलब, जैन समाज की खेल प्रतिभाओं के विकास का...

जीतो गेम्स का मतलब, जैन समाज की खेल प्रतिभाओं के विकास का शानदार संकल्प

SHARE

मुंबई। जैन इंटरनेशनल ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन (जीतो) ने जीतो गेम्स की शुरूआत करके जैन समाज में एक नई क्रांति को जन्म दिया है। जैन समाज के लोग व्यापार, उद्योग, राजनीति, प्रशासन, धर्म, शिक्षा, संस्कृति आदि हर क्षेत्र में बहुत आगे है, लेकिन खेलों के मामले में अब तक की कमी को जीतो गेम्स ने पूरा कर दिया है। इन दिनों मुंबई, अहमदाबाद, चेन्नई, बैंगलोर आदि देश के सभी बड़े शहरों में जीतो गेम्स चल रहे हैं। जिनमें हजारों खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। जीतो के मुम्बई जोन के चैयरमेन सुखराज नाहर के अनुसार जैन समाज की खेल प्रतिभाओं को प्रोत्साहन देने की जीतो की इस महत्वाकांक्षी योजना के तहत मुंबई में भी खेल प्रतिभाओं को तराशने के अभियान के तहत एनएससीआइ स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में जीतो गेम्स का आयोजन हुआ।

जैन समाज में खिलाड़ी प्रतिभाएं तो हमेशा से रही है, लेकिन उन्हें आगे आने के अवसर नहीं थे। इसी कमी को पूरा करने के लिए जीतो गेम्स जैन इंटरनेशनल ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन (जीतो) द्वारा संचालित प्रशासनिक सेवाओं के प्रशिक्षण जेएटीएफ की तरह ही एक अभिनव योजना है। उम्मीद की जा रही है कि जैन समाज के प्रतिभाशाली खिलाडिय़ों में से चुनिंदा खिलाडिय़ों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बढ़ावा देने के लिए आयोजित जीतो गेम्स विभिन्न स्तर पर प्रेक्टिस एवं अन्य ट्रेनिंग देने की व्यवस्था में भी देश भर में ‘काफी मददगार साबित होगा। जैन समाज की खेल प्रतिभाओं को अंतर्राष्ट्रीय स्तर का खिलाड़ी बनाने का यह महत्वपूर्ण आयोजन खेल प्रतिभाओं के खेल करियर की प्लानिंग, उनकी प्रेक्टिस एवं अन्य खास ट्रेनिंग में भी सहायक साबित होगा। जीतो गेम्स से नेशनल एवं इंटरनेशनल खेलों के लिए कुछ प्रतिभाशाली खिलाड़ी भी अवश्य निकलेंगे, यह उम्मीद की जा रही है, क्योंकि उनके लिए अब तक अवसर ही नहीं थे। लेकिन जीतो गेम्स के रूप में अब खिलाडिय़़ों को एक नया मंच मिल गया है। जीतो मुम्बई जोन के चैयरमेन सुखराज नाहर, चीफ सेक्रेटरी माणक राठोड़ जीतो गेम्स के नेशनल डायरेक्टर राजेश वर्धन, जीतो मुंबई प्रीमियर लीग के पृथ्वीराज कोठारी, जीतो एपेक्स के धीरज कोठारी, जीतो जुहू चेप्टर के चेयरमेन प्रविण धोका, चीफ सेक्रेटरी जयंती लुंकड़, ग्वालिया टैंक चेप्टर के चेयरमेन प्रवीण बछावत एवं भायखला चैप्टर के चेयरमेन राकेश संघवी, सहित जीतो गेम्स के संयोजक कीर्ति खांटेड एवं स्पोर्ट्स प्रबंधन समिति के अजय जैन मुंबई में खेल प्रतिभाओं के विकास में हर संभव सहयोगी साबित हो रहे हैं।