प्रकाश फाउंडेशन ने किया सोहम डागा का सत्कार

प्रकाश फाउंडेशन ने किया सोहम डागा का सत्कार

SHARE

मुंबई। प्रतिभाए किसी परिचय का मोहताज नहीं होती वे अपनी सफलता का रास्ता स्वयं चुन लेती है। एसी ही एक प्रतिभा का नाम है सोहम डागा। सोहम डागा को अमेरीकी कांग्रेस द्वारा सर्वोच्च पुरस्कार (सिवीलीयन अवार्ड) के स्वर्ण पदक से नवाजा गया है। सोने में सुहागा के रुप में सोसायटी आफ साईंस अमेरिका द्वारा उनकी अद्भूत उपलब्धियो हेतु एक ग्रह का नाम भी उनके नाम पर रखा गया है। उनकी इस शानदार उपलब्धि पर प्रकाश फाउंडेशन द्वारा सत्कार समारोह का आयोजन विक्टोरीया ब्लाईंड स्कुल, ताड़देव, मुंबई में संपन्न हुआ। ज्ञात रहे कि विक्टोरिया ब्लार्इंड स्कूल १०० वर्ष पूराना है और यह धरोहर में शामिल है। यहा पर अंधे बच्चों को अच्छी शिक्षा देते हुए उनकी जरुरतों पर पूरा ध्यान दिया जाता है।

इस कार्यक्रम के अतिथि विशेष महाराष्ट्र सरकार के कॅबिनेट मंत्री राज के. पुरोहित, अभय फिरोदीया (चेयरमेन-विरायतन), शांतिलाल कवाड़ (प्रेसिडेंट-जीतो अपेक्ष) थे। प्रकाश सी. कानुंगो एवं संजय लोढ़ा (चेयरमेन-जीतो इंटरनेशनल वींग) के संयोजन में संपन्न हुये इस समारोह में सभी वक्ताओं ने सोहम डागा को बधाई एवं मंगल आशीर्वाद देते हुए कहा कि सोहम डागा ने देश ही नहीं विदेश में भी अपने परिवार एवं जेन समाज का नाम रोशन किया है। इनका सत्कार हमारे लिए गौरवशाली क्षण है।

ज्ञात रहे कि सोहम डागा के दादाजी तनसुखराज डागा जैन समाज के अग्रणी उद्योगपति होने के साथ-साथ विरायतन में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं। समारोह में सोहम डागा ने बताया कि वे ३५ वर्ष की उम्र में देश लौटकर अपनी कमाई का हिस्सा सेवा हेतू लगाकर विरायतन के उत्थान हेतु अपना पूरा समय देंगे। इस अवसर पर प्रकाश फाउंडेशन के हेमंत कानुंगो द्वारा सोहम डागा को शॉल एवं स्मृतिचिन्ह प्रदान किया गया। इसके साथ ही हाल ही में मनाये गये उनके २१वें जन्म के फोटो का संग्रह एवं तनसुखराज डागा के शादी के ५० वर्ष पुर्ण होने पर मनाये गये कार्यक्रम के फोटो का संग्रह प्रदान किया। कार्यक्रम में संजय लोढ़ा ने प्रश्नोत्तरी से सोहम डागा से सवाल जबाब किये। जिसका सोहम डागा ने सुंदर ढंग से उत्तर देते हुए सदन को अपनी उपलब्धियों एवं आगामी योजनाओं की जानकारी दी। समारोह में जीतो अपेक्स के ट्रेजरार धीरज कोठारी, जीतो के डायरेक्टर मनोहर कानुंगो, रांका फॅमिली फाउंडेशन के चेयरमेन एच. एस. रांका, सुमन बच्छावत, विरायतन के सुंदरजी भाई, किशोर मेहता, आर. सी. सिंघवी, जीतो के हितेश गोलछा, शताब्दी गौरव के सिद्धराज लोढ़ा सहित डागा परिवार के सभी सदस्यगण उपस्थित थे। कार्यक्रम के पश्चात दक्षिण भारत के शानदार व्यंजन रखे गये थे। जिसको मेहमानों ने लुफ्त उठाया।