मिलिंड देवड़ा ने कहा था, जीएसटी में सरकार को झुकना पड़ेगा, और...

मिलिंड देवड़ा ने कहा था, जीएसटी में सरकार को झुकना पड़ेगा, और आखिर झुकी सरकार

SHARE

मुम्बई। पूर्व केंद्रीय मंत्री मिलिंद देवड़ा व्यापारियों के हितैषी है अपने पिता मुरली देवड़ा के नक्शे कदम पर चलते हुए व्यापार व्यापारियों और व्यावसायिक गतिविधियों के विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं। इसी कोशिश में दीपावली के दौरान देवड़ा ने मुंबई के राजस्थानी समाज के विशिष्ट व्यापारियों से मुलाकात की और उनकी समस्याओं को जाना।

शताब्दी गौरव के दीपावली विशेषांक के विमोचन अवसर पर इंडियम मर्चेंट चेम्बर्स में आयोजित दीपावली सम्मेलन में पूर्व केंद्रीय मंत्री मिलिंद देवड़ा ने जीएसटी के बारे में कहा था कि भारत सरकार व्यापारियों के बारे में जीएसटी के जरिये जुल्म कर रही है, और जीएसटी की वजह से हर व्यापारी परेशान है। देवड़ा ने कहा था कि सरकार को आखिर झुक कर जीएसटी की दरों को कम करना ही होगा। क्योंकि जीएसटी ने व्यापारियों को परेशान कर रखा है, और उसका आसान हल निकालने के लिए वे सरकार पर दबाव बना रहे हैं, जिसे सरकार को आखिर झुकना ही होग। देवड़ा की यह बात सही साबित हुई और आखिर हाल ही में सरकार को झुककर व्यापारियों की समस्याओं को हल करने के लिए जीएसटी के स्लैब को कम करना पड़ा।

देवड़ा ने इस अवसर पर आये राजस्थानी समाज के सभी व्यापारियों को बधाई दी और कहा कि मैं खुशनसीब हूं कि जिस तरह से व्यावसायिक समाज का मेरे पिता स्वर्गीय श्री मुरली देवड़ा जी को सहयोग मिलता रहा, वही मुझे भी मिल रहा है  इसलिए मैं आप सबका आभारी हूं। इस आयोजन में मुंबई कांग्रेस के उपाध्यक्ष भंवर सिंह राजपुरोहित, राजनीतिक विश्लेषक निरंजन परिहार, जाने-माने चार्टर्ड अकाउंटेंट सहित कई प्रमुख लोग विशेष रुप से उपस्थित थे। शताब्दी गौरव के प्रधान संपादक सिद्धराज लोढा ने आगंतुकों का स्वागत किया।

मुरली देवड़ा ने जिस तरह से राजनीति में व्यावसायियों के सहयोग की परंपरा को विकसित किया था, इस आयोजन में मिलिंद देवड़ा की भावनाओं से स्पष्ट स्पष्ट एहसास हुआ कि वह भी अपने पिता के नक्शे कदम पर चलते हुए व्यापारियों के विकास के बारे में सोच रहे हैं।  मिलिंद देवड़ा युवा है देश की राजनीति में उनका विशेष स्थान है और विशेषकर मुंबई के व्यापारिक समाज में मिलिंद देवड़ा के प्रति स्नेह है। दीपावली सम्मेलन में मिलिंद देवड़ा के प्रति व्यावसायिक समाज में स्वर्गीय मुरली देवड़ा जैसा ही स्नेह है, इसका का खुलासा उस समय हुआ, जब इंडियन मर्चेंट चेम्बर्स में आयोजित शताब्दी गौरव के इस समारोह में आए सभी विशिष्ट लोगों ने मुरली देवड़ा को याद करते हुए मिलिंद देवड़ा के प्रति स्नेह व्यक्त किया।

कार्यक्रम में मदनराज शाह, गणपत कोठारी, विमल बोराणा, चंदन परमार, कुंदन सिरोया, अरुण खिवेंसरा, जयंतीभाई (एमके), राजेन्द्र मंडलेचा, जतनराज नवलखा, चुन्नीलाल जैन, रमण सोलंकी, महेन्द्र बलदोटा, प्रवीण बच्छावत, घीसुलाल करबावाला, रमेश फौजी, हस्तीमल बेड़ा, मनीष चौधरी, सुकन परमार, सज्जन रांका, कांति कितावत, जयंतिलाल परमार, नरेंन्द्र मंडोत, अक्षय मुठलिया, शांतिलाल पुनमिया, भरत सुराणा, महेन्द्र जैन, शांतिलाल बोकडिया, पुनित सुराणा, गिरीश राठौड, अशोक छाजेड, जीतूभाई शाह उपस्थित थे।