असम राज्य में जैन समाज के विकास के लिए विशेष योजना बनायेंगे...

असम राज्य में जैन समाज के विकास के लिए विशेष योजना बनायेंगे – मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल

SHARE
CLICK TO ENLARGE / फोटो देखने के लिए क्लिक करे

गुवाहाटी। असम राज्य के विकास में ‘जैन समाज’ का महत्वपूर्ण योगदान रहा है। अब जैन समाज को राष्ट्रीय स्तर पर ‘अल्पसंख्यक दर्जा’ मिलने के बाद इस समाज के विकास हेतु राज्य सरकार द्वारा विशेष योजनाएँ बनायी जायेगी ऐसा आश्वासन असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने दिया। समस्त जैन समाज की राष्ट्रीय शिखर संस्था ‘ऑल इंडिया जैन मायनोरीटी सेल’ के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललित गांधी ने प्रतिनिधिमंडल के साथ मुख्यमंत्री से मुलाकात कर ज्ञापन सोपा तब वे बोल रहे थे। ‘जीतो’ के पूर्वोत्तर शाखा के महामंत्री मनोज सेठीया, AIJMC के गुवाहाटी शाखा के संयोजक निरंजन गंगवाल तथा संजीव कोठारी इस अवसर पर उपस्थित थे। ललित गांधी ने मुख्यमंत्री सोनोवालजी से जैन समाज की अपेक्षाओं के बारे में अवगत कराया, विशेषत: शिक्षा एवं स्वास्थ्य क्षेत्र में अधिक कार्य की संभावनाओं की चर्चा की। तथा जैन समाज के धर्मस्थानों के विकास हेतु सरकार से विशेष योजनायें संचलित करने की मांग की। गुवाहाटी में ”’;”जैन समाज का राज्यस्तरीय अधिवेशन फरवरी माह में आयोजित हो रहा है, उसके उद्घाटन हेतु मुख्यमंत्री महोदय को आमंत्रित किया। जिसका उन्होंने सहर्ष स्विकार किया।