परम पूज्य आचार्य श्रीमद् विजय यशोवर्मसूरीश्वरजी म.सा. की पावन निश्रा में वालचंद...

परम पूज्य आचार्य श्रीमद् विजय यशोवर्मसूरीश्वरजी म.सा. की पावन निश्रा में वालचंद दर्शन भायंदर में भव्य अंजनशलाका प्रतिष्ठा महोत्सव ५ दिसम्बर को

SHARE

भायंदर। धर्मनगरी भायंदर के वालचंद दर्शन में परमपूज्य आचार्य श्रीमद विजय यशोवर्मसूरीश्वरजी म.सा. की पावन निश्रा में श्री हमीरमल वालचंदजी तलेसरा (जैन) चेरीटेबल ट्रस्ट के तत्वावधान में भव्य अंजनशलाका प्रतिष्ठा एवं प्रवज्या महोत्सव पर नवाहिन्का महोत्सव क्षत्रियकुड नगरी, डी मार्ट के सामने, १५० फीट रोड में २७.११.२०१६ से प्रारंभ होगा।

valchand darshan

valchand darshan1महोत्सव के आयोजक प्रकाशभाई तलेसरा (वालचंद बिल्डर्स) ने हमारे संवाददाता को बताया कि महोत्सव के प्रथम दिन मुमुक्षु कु. फोरम रोहितभाई शाह एवं मुमुक्षु कु. किंजल बाबुभाई पारेख की पारमेश्वरी प्रव्रज्या (वीक्षा) होगी। भव्य रथयात्रा का आयोजन रविवार ४.१२.२०१६ एवं पावन प्रतिष्ठा सोमवार ५.१२.२०१६ को संपन्न होगी। महोत्सव के दौरान रविवार, दिनांक २७.११.२०१६ सुबह ब्रह्ममुहूर्त ५.३० बजे: मंदिरजी में कुंभस्थापना, अखंड दिपक स्थापना, ज्वारारोपण सुबह ६.१५ बजे: बावन जिनालय से देव-गुरु प्रवेश यात्रा व मुमुक्षु फोरम एवं मुमुक्षु किंजल की वर्षीदान यात्रा, सुबह ८.१५ बजे: जिनालय में प्रभुजी का भव्य प्रवेश, सुबह ८.३० बजे: क्षत्रियकुंड नगरी में मुमुक्षु कु. फोरम एवं किंजल की भागवती दीक्षा विधि प्रारंभ होगी। सोमवार, दि. २८.११.२०१६ सुबह ९.०० बजे पु. गुरुदेव का प्रवचन, १०.०० बजे वृहद नंद्यावर्त पुजन का आयोजन, मंगलवार दि. २९.११.२०१६ सुबह ८.३० बजे पूज्यश्री का प्रेरक प्रवचन, १०.०० बजे सोलह विद्यादेवी, क्षेत्रपाल, भैरव, दश दिक्पाल, नवग्रह, अष्टमंगल पाटना पूजन का आयोजन, बुधवार दि. ३०.११.२०१६ सुबह ८.३० बजे पूज्यश्री का मननीय प्रवचन, सुबह १०.०० बजे लघु सिद्धचक्र पूजन, लघु वीशस्थानक पुजन का आयोजन, गुरुवार दि. ०१.१२.२०१६ मंदिरजी में सुबह ६.०० बजे च्यवन कल्याणक विधान, सुबह ९.३० बजे क्षत्रियकुंड नगरी उद्घाटन, चौदह स्वप्न दर्शन, इंद्र सिंहासन कंपन एवं संध्या भक्ति का आयोजन, शुक्रवार दि. ०२.१२.२०१६ मंदिरजी में सुबह ६.०० बजे जन्म विधान, श्री क्षत्रियकुंड नगरी में सुबह ९.३० बजे ५६ दिक्ककुमारी एवं ६४ इंद्र द्वारा जन्म मेरु महोत्सव, दोपहर २.३० बजे १८ अभिषेक एवं संध्या भक्ति का आयोजन, शनिवार, ३.११.२०१६ नगरी में सुबह ९.०० बजे प्रियंवदा द्वारा जन्म बधाई, भुआ द्वारा नामकरण, पाठशाला गमन, मामेरा, लग्न महोत्सव, राज्याभिषेक, बहन द्वारा राजतिलक, नवलोकांतिक देव द्वारा दीक्षा विनती, वर्षीदान प्रारंभ एवं संध्या भक्ति का आयोजन, रविवार, दि. ०४.१२.२०१६ मंदिरजी से सुबह ८.३० बजे दीक्षा कल्याणक की भव्यातिभव्य रथयात्रा, नगरी में दीक्षा कल्याणक विधान, संध्या भक्ति, रात्रि अधिवासना अंजनशलाका विधि का आयोजन, सोमवार, दि. ०५.१२.२०१६ प्रतिष्ठा दिन सुबह ७.३० बजे प्रतिष्ठा, विधि प्रारंभ, सुबह १०.३० बजे बृहत्शांतिस्नात्र प्रारंभ, फले चुंदडी व शाही करबा का आयोजन, मंगलवार, दि. ०६.१२.२०१६ ब्रह्म मुहूर्त में द्वार उद्घाटन, श्री सत्तरभेदी पुजा संपन्न होगी। कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु प्रकाशभाई, हरीश, निलेश, श्रीमती पुष्पाबेन, श्रीमती शीतल, श्रीमती त्रिष्णा सहित पूरा तलेसरा परिवार जुटा हुआ है।