सुपर स्टार आमिरखान का ‘पानी फाउंडेशन’ गांवों में कर रहा है सराहनीय...

सुपर स्टार आमिरखान का ‘पानी फाउंडेशन’ गांवों में कर रहा है सराहनीय कार्य

SHARE
Click To Enlarge

मुंबई। फिल्म निर्माता एवं उद्योगपति महावीर जैन के संयोजन में देश के अग्रणी उद्योगपतियों के साथ जल संरक्षण हेतु विचार विमर्श हेतु एक कार्यक्रम का आयोजन सुपरस्टार आमिर खान के निवास स्थान पर किया गया। जिसमें आमिर खान ने अपने NGO ‘पानी फाउंडेशन’ के उद्देश्यों एवं कार्यप्रणाली की जानकारी दी। आमिर खान ने करीब १.३० घंटे तक इस विषय पर चर्चा की। उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि महाराष्ट्र में जल सरंक्षण और सूखा राहत कार्यक्रम के लिये राज्य की देवेन्द्र फडणवीस सरकार के साथ हाथ मिलाया है। आमिर खान ने पानी की जागरूकता बढाने के लिये ‘पानी फाउंडेशन’ नामक संस्था का गठन किया है। इस संस्था की घोषणा के अवसर पर मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस उद्योगपति कुमार मंगलम बिड़ला, बाल कल्याण मंत्री पंकजा मुंडे, फिल्म निर्देशक राजकुमार हिराणी सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।

आमिर खान एवं उनकी टीम जमीनी स्तर पर पूरी तरह से गांव वालों के साथ जुडक़र पानी संरक्षण का कार्य कर रहे है। इस कार्य की योजना पिछले १३ महीनों से हो रही है। पहले चरण में ११६ गांवों को सूखा मुक्त करने का काम इस साल के ५ जून २०१६ तक पूरा हो ऐसा पूर्ण प्रयास जारी है। उन्होने यह संकल्प लिया है कि वे अगले ३ से ४ सालों में महाराष्ट्र के ३०,००० गांवों को सूखा मुक्त करने का पूरा प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि ११६ गांवों में ‘वॉटर कप प्रतिस्पर्धा रखी गई है, जिसमें प्रथम आने वाले गांव को ५० लाख रूपये एवं द्वितीय आने वाले गांव को ३० लाख पुरस्कार दिया जायेगा। उन्होने ने बताया कि ‘पानी फाउंडेशन’ द्वारा महाराष्ट्र के विदर्भ, सातारा एवं मराठावाड़ा के ११६ गांवों में ग्रामवासियों को इसकी पूरी ट्रेनिंग दी जाती है कि वे गांव के स्तर पर जल संरक्षण कर सकते है। इसके साथ ही सरपंच, पटवारी व स्थानीय जन भागीदारी के साथ गांव की अन्य समस्याओं का समाधान कर सकते है। आमिर खान ने कहा कि इससे गांव की छोटी-छोटी समस्याओं के निदान के साथ-साथ सामाजिक एकता को भी बढावा मिलता है। उन्होंने इस बारे में उदाहरण देते हुए कहा कि एक गांव में दो भाई आपस में कई वर्षों से बातचीत नहीं करते थे लेकिन जब गांव में श्रमदान के दौरान आपस में एक साथ-साथ काम करने लगे तो उन्होने अपना आपसी झगड़ा खत्म कर गांव की एकता हेतु खुशी से बातचीत करने लगे। एक उदाहरण और देते हुए कहा कि एक गांव के दो पक्षों में किसी विवाद के लिये न्यायालय में मुकदमा चल रहा था लेकिन जब साथ-साथ काम करने की बारी आई तो सारी कटुता समाप्त कर मुकदमें को वापस ले लिया। इससे गांव में सामाजिक सौहार्दपूर्ण वातावरण का निर्माण हुआ। पानी फाउंडेशन के अंतर्गत उन्होंने पिछले १३ महीनों से इस संकल्प की ओर प्रयास शुरू कर दिये है। उन्होंने व उनकी टीम ने गांव-गांव जाकर लोगों को श्रमदान के लिये प्रेरित किया है। इस अवसर पर ‘पानी फाउंडेशनÓ के CEO सत्यजीत भटकल, व सत्यमेव जयते की CEO श्रीमती रीना दत्ता ने भी जानकारी दी। आमिर खान व सत्या ने उपस्थित लोगों के प्रश्रों का भी जवाब देते हुए कई शंकाओं का निवारण किया।

महावीर जैन एवं श्रीमती नीतु जैन के संयोजन में इस कार्यक्रम में श्री वल्लभ भंसाली, श्री मोतीलाल ओसवाल, श्री संजय डांगी, श्री रवि पी.दोशी, श्री सुशील सोलंकी, शताब्दी गौरव के संपादक सिद्धराज लोढा, सातारा के रमेश भाई, नाशिक के मनोज भाई, नरपत चोपड़ा, अमरावती के श्री चंद्रकुमार जाजोदिया, डॉ गौतम भंसाली, श्री अंकुर आलिया, श्री नयन भेदा, श्रीमती चंदा रूणवाल, श्रीमती शीला मेहता सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित थे। सभी ने आमिर खान को ‘पानी फाउंडेशन’ हेतु तन-मन-धन से सहयोग करने का आश्वासन दिया।