अंधेरी रिक्रीयेशन क्लब द्वारा आयोजित प. पू. गणिवर्य नयपद्म सागरजी म.सा. के...

अंधेरी रिक्रीयेशन क्लब द्वारा आयोजित प. पू. गणिवर्य नयपद्म सागरजी म.सा. के प्रवचन में उमड़ा जन सैलाब

SHARE

मुंबई। शांतावाडी उपाश्रय से सकल जैन संघ एवं अंधेरी रिक्रीयेशन क्लब के सदस्यों के साथ वाजते गाजते बड़े ही हर्ष और उल्हास के साथ गुरुदेव का प्रवेश हुआ। युवा उद्योगपति श्री संजय पुनमिया के विशेष आग्रह पर गुरु भगवंतों ने प्रथम बार क्लब में प्रवेश किया। क्लब के गवर्नींग काउंसिल के सभी सदस्यों ने क्लब के प्रांगण (लॉन) में बडे ही सुंदरता के साथ पण्डाल बनाया। क्लब में प्रवेश करने महिला सदस्यों ने गाउली बनाकर उनका वंदन किया। क्लब ने अंधेरी के सभी महानुभावों एवं संघों का निमंत्रण दिया। जिससे पूरा पंडाल क्लब के सदस्यों एवं आमंत्रित मेहमानों से गुरुदेव के प्रवचन का श्रवण करने के के लिए उमड़ पड़ा। इसमे जीयो के डायरेक्टर एवं सदस्यों के साथ विशेष रुप से आमंत्रित अतिथि शामिल थे। गुरु वन्दना के पश्चात क्लब के टे्रजरार श्री जे. एम. राणावत ने आगंतुक मेहमानों का स्वागत किया एवं गुरुभगवंतों एवं साध्वीजी म.सा. जिनका लम्बे समय से इन्तजार था उसे पूर्ण होने पर गुरुभगवंतो का आभार व्यक्त करते हुए उनके प्रवचन और आशिष की कामना की। अंधेरी रिक्रीएशन क्लब के अध्यक्ष श्री रतनचंद के. जैन पुनमिया ने क्लब की सेवाओं और गुरु भगवंतो का संक्षिप्त परिचय दिया। विशेष रुप से मुंबई का एक मात्र शाकाहारी क्लब होने पर गर्व प्रकट किया।

प. पू. गणिवर्य नयपदम सागरजी म.सा. ने अपने मुख से प्रवचन शुरु किया। जिसमें विशेष रुप से शाकाहार पर अपने विचार आंकड़ो के साथ प्रकट किए एवं जैन धर्म और उसके शासन किस तरह से और उँचा उठा सके इस पर अपने विचार व्यक्त किए। जीओ द्वारा किये गये कार्यो के बारे में विशेष रुप से उल्लेख किया और कहा कि जीयो और जीवों के झंडे तले समाज के हर व्यक्ति को उच्च शिक्षा, मेडीक्लेम तथा अन्य सेवाएं प्रदान करने का उल्लेख किया। आगामी योजना के तहत अंधेरी में एक जैन स्कूल बनाने, एवं यहाँ और आसपास रहने वालें जैन भाईयों एवं बहनों की जीयो और जीवो के सदस्य बनने का आवाहन किया। कुछही समय में पुरुष, महिला, युवावर्ग ने स्वेच्छा से आगे आकर जीयो के माध्यम से सेवा ओर समर्पण सदस्य बनने में अपने नाम लिखाए। इस पवित्र प्रसंग पर विशेष रुप से मिरा भाईन्दर की महापौर गीता भरत जैन, नगर सेविका सीमा जैन, दिनेश जैन, आरएसएस के प्रमुख पदाधिकारी सुरेश जैन, भूमि बिल्डर्स के तुरकिया, डॉक्टर्स, एडवोकेट तथा काफी संख्या में गणमान्य लोगों ने उपस्थित रहकर समारोह की गरिमा बढ़ाई। आमंत्रित लोगो के अभिनंदन के पश्चात महापोर गीता भरतजी जैन, एडवोकेट सन्नी संजय पुनमिया, सेफी मेडिकल हॉस्पीटल के डा. गौतम गुप्ता ने अपने विचार व्यक्त करते हुये वर्तमान समय में किस तरह जीयो एवं जीवो द्वारा अन्य सम्प्रदाय के लोगों को अपनी सेवाएं प्रदान करने की इच्छा जताई। गुरु भगवंत के प्रवचन के पश्चात श्रीजी मयणाश्रीजी म.सा. ने भी अपने प्रवचन में आगामी समय में नारी जाति पर हो रहे अत्याचार आदि विषयों पर दुख प्रकट करते हुए जैन समाज को आगे आने के साथ एक जुट होकर इसका समाधान करने का आव्हान किया। प. पूज्य गणिवर्य नयपद्म सागरजी म.सा. ने इस वर्ष मुबई में महा नगरपालिका चुनाव में अंधेरी क्षेत्र में कम से कम जैन समुदाय के दो सदस्यों को चुनाव में खडे रखने का आहवान किया। गुरुभगवंत ने स्वयं उनके प्रचार और प्रसार से जुड कर उन्हें विजयी बनाने का संकल्प लिया। ताकि जैन समाज में धीरे-धीरे ज्यादा से ज्यादा संख्या में न केवल नगरपालिका अपितु विधायक, सांसद का प्रतिनिधित्व रहे जिससे जैन समाज की आवाज को पहुंचा सके और समाज हर तरह के अपने कार्यक्रमों एवं जीयो और जीवो के अपने उद्देश्य में सफल हो सके। क्लब द्वारा गुरुदेव एवं साध्वीश्रीजी का कामली बोराई गई।

इस सम्पूर्ण कार्यक्रम के आयोजन में विशेष रुप से क्लब के अध्यक्ष श्री रतनचंद के. जैन, सेक्रेटरी श्री विनोदभाई मेहता, श्री राजूभाई गांधी, ट्रेजरार श्री जे. एम. राणावत, ट्रस्टी श्री भरतभाई मेहता, श्री महेन्द्र पारेख एवं श्री संजय पुनमिया तथा क्लब और जैन संघ के सदस्यों ने अपना सहयोग देकर सफल बनाने में किसी भी प्रकार की कोई कमी नहीं रखी। इस कार्यक्रम में भारी संख्या में महिलाये उपस्थित रही जिसमें श्रीमती कमलाबेन रतनचंदजी जैन, श्रीमती निता विनोदजी मेहता, श्रीमती निलम जे. राणावत, श्रीमती ललिता भरतजी मेहता, श्रीमती कमलाबेन कपूरचंदजी तांतेड, श्रीमती हेमलता मदनजी सांखला शामिल थी। पधारे हुये सभी मेहमानों के लिए स्वादिष्ठ रुप से साधर्मिक भक्ति भी रखी गयी जिसका सभी लोगों ने लाभ लिया तत्पश्चात गुरु भगवंत के क्लब द्वारा प्रदान करने वाली सेवाओं को देख कर प्रसन्नता व्यक्त की एवं इस आयोजन को सफल बनाने पर अपनी खुशी व्यक्त की। गुरु भगवंतों एवं साध्वीजी ने विहार कर जुहु गली में संजयभाई पुनमिया के आवास पर प्रवेश किया एवं भरत मेहता के घर पर पगलिया कर दो दिन तक अन्धेरी में रहकर सभी नये सदस्यों को भावी योजनाओं और कार्यक्रमों को श्री नयपद्म सागरजी ने जीयो और साध्वी श्रीजी मयणाश्रीजी ने जीवो के बारे में आगे की भूमिका पर अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम में मदन साखला, पूर्व विधायक अशोक जाधव, पूर्व नगरसेवक मोहसीन हैदर, मीरा-भायंदर मनपा के नगरसेवक दिनेश जैन, शताब्दी गौरव के प्रधान संपादक सिद्धराज लोढ़ा, युवा समाजसेवी राकेश कोठारी, अतुल भाई सहित गणमान्य उपस्थित थे।