पालीताणा पंजाबी धर्मशाला में शिखरबंद्ध जिनमन्दिर में चल प्रतिष्ठा संपन्न

पालीताणा पंजाबी धर्मशाला में शिखरबंद्ध जिनमन्दिर में चल प्रतिष्ठा संपन्न

SHARE

पालीताणा। पाकिस्तान के गुजरांवाला शहर के श्री आत्मानंद जैन गुरुकुल में से देश विभाजन के समय जो जिन बिम्ब गुरु वल्लभ भारत लाये उन्हें पालीताणा में पंजाबी धर्मशाला में घर मन्दिर बनाकर स्थापित किया गया था। अब वहां पर शिखरबद्ध जिनमन्दिर बनवाने का निर्णय शांतिदूत गच्छाधिपति आचार्य देव श्रीमद् विजय नित्यानंद सूरि जी म.सा की प्रेरणा से ट्रस्ट मण्डल ने किया है। पूज्य गच्छनायक जी की पावन निश्रा में शुभ मुहूर्त में समस्त जिन बिम्बों और गुरु बिम्बों का उत्थापन कर धर्मशाला के हाल कमरे में अतिथि रूप में चल प्रतिष्ठित किया गया। शीघ्र ही पुराने मन्दिर के भाग को तोड़ कर भव्य जिनमंदिर का निर्माण कार्य शुरू किया जायेगा। अस्वस्थता के कारन पूज्य गच्छाधिपति गुरुदेव तो इस चल प्रतिष्ठा प्रसंग पर उपस्थित नही हो पाये। समुदायवडिल तप चक्रवर्ती आचार्य देव श्रीमद् विजय वसन्तसूरीश्वरजी म.सा. ने वासक्षेप करके उथापन तथा चल प्रतिष्ठा विधि सम्पन्न करवाई। इस प्रसंग पर अनेक साधु साध्वी भगवंत तथा गुरु भक्त उपस्थित थे।