श्री आर्य गुण गुरुकृपा जैन तीर्थ, रामजी का गोल की प्रतिष्ठा २१...

श्री आर्य गुण गुरुकृपा जैन तीर्थ, रामजी का गोल की प्रतिष्ठा २१ जनवरी २०१७ को

SHARE

मुंबई। नवोदित श्री आर्य गुण गुरुकृपा जैन श्वेताम्बर तीर्थ, रामजी का गोल की प्रतिष्ठा मुहूर्त प्रदान महोत्सव तीर्थ प्रेरक, राजस्थान दीपक, सौम्य स्वभावी, साहित्य दिवाकर परम पूज्य आचार्य भगवंत श्री कलाप्रभसागर सूरीश्वरजी म.सा. आदि श्रमण-श्रमणीवृन्दों की पावनतम निश्रा में संघवी गैलेक्सी, खेतवाड़ी, मुंबई में सानन्द संपन्न हुआ।

तीर्थ के अध्यक्ष मांगीलाल वडेरा ने बताया कि पूज्य गुरुदेव के मंगलाचरण के प्रारंभ हुए कार्यक्रम में भंवरलाल पड़ाईया की गीतिका प्रस्तुति के बाद कार्यक्रम के लाभार्थी अमृतलाल कटारिया संघवी ने सभी आगन्तुकों व ट्रस्ट मण्डल का स्वागत उद्बोधन दिया। तीर्थ के कार्याध्यक्ष शंकरलाल पड़ाईया ने लाभाथी्र परिवार के आभार सह तीर्थ की प्रगति का विवरण प्रस्तुत किया। संगीतकार अनिल सालेचा ने भक्ति की ऐसी रमझट जमाई कि सभी श्रोता नाचने लगे। तीर्थ की प्रतिष्ठा का मुहूर्त प्राप्त करने का लाभ बालोतरा निवासी, परम गुरुभक्त संघवी अमृतलसल पुखराजजी कटारिया परिवार ने लेकर तीर्थ प्रतिष्ठा संवत् २०७३ के २१ जनवरी २०१७ को होने की उद्घोषणा की। उद्घोषणा के साथ ही संगीत की लहरियों के साथ सभी श्रद्धालु नाचने लगे। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि विधायक मंगलप्रभात लोढा, पूर्व विधायक अतुल शाह, नाकोड़ा तीर्थ ट्रस्टी रणवीर गेमावत, अखिल भारत अचलगच्छ जैन संघ के अध्यक्ष शामजी नरसी दंड, कुशल वाटिका बाडमेर के के अध्यक्ष भंवरलाल छाजेड़, कच्छी दशा ओसवाल संघ के अध्यक्ष कल्पेश भाई मोता, समाजसेवी दलीचंद भंसाली ने शिरकत की। कार्यक्रम का सफल संचालन तीर्थ ट्रस्ट के मंत्री लूणकरण सिंघवी ने किया। प्रतिष्ठा की प्रथम जाजम मुंबई में बिछाने का लाभ मोरसीम निवासी बाबुलाल तेजाजी कटारिया संघवी परिवार एवं गुरुपूजन का लाभ बाडमेर निवासी भूरचन्द धनराज वडेरा परिवार ने लिया। कांबली ओढाने का लाभ कटारिया संघवी परिवार ने लिया।

युवा मुनिराज श्री हेमचन्द्रसागरजी म.सा. ने मंत्रोच्चार के साथ सभी श्रद्धालुओं से तीर्थ की प्रतिष्ठा में तन, मन, धन से जुडऩे का आहवान किया। शासन प्रभाविका विदुषी साध्वीवर्या साध्वी श्री हिरण्यगुणाश्रीजी म.सा. आदि ठाणा ने कार्यक्रम में सानिध्यता प्रदान की। कार्यक्रम को सफल बनाने में मुकेश वर्धन, मंगलचंद सेठ, जब्बरमल कटारिया संघवी, रमेश कटारिया संघवी, बंशीलाल श्रीश्रीमाल, मनोज कटारिया संघवी, बाबुलाल कटारिया संघवी, मिश्रीमल श्रीश्रीमाल, चम्पालाल श्रीश्रीमाल, हनुमान एन. गांधी, गौतमचंद आर. कटारिया संघवी, मांगीलाल गांधी मेहता आदि का विशेष सहयोग रहा। इस अवसर पर तीर्थ ट्रस्ट के पदाधिकारी, ट्रस्टी, सलाहकारों के साथ साथ बाडमेर, धोरीमन्ना, अहमदाबाद, गुड़ामालाणी, मोरसीम, धुम्बडिय़ा, भीनमाल, सिद्धपुर, जोधपुर, बाली, भिवंडी सहित कई नगरों के श्रद्धालु उपस्थित थे। कार्यक्रम समापन पश्चात लाभार्थी परिवार द्वारा स्वामीवात्सल्य का आयोजन रखा गया।