Shree Kalikund Tirth: Nearly 120 cms. high, white-colored idol of Bhagawan...

    Shree Kalikund Tirth: Nearly 120 cms. high, white-colored idol of Bhagawan Kalikund Parshvanath in the Padmasana posture.

    SHARE

    श्री कलिकुंड तीर्थ/Shree Kalikund Tirth –

    मूलनायकः श्री कलिकुंड पार्श्वनाथ भगवान, श्वेतवर्ण, पद्मासनस्थ।

    मार्गदर्शनः यह तीर्थस्थान धोलका रेल्वे स्टेशन से एक किलोमीटर दूरी पर है। अहमदाबाद पालीताणा के रास्ते पर यह तीर्थ है। अहमदाबाद से 40 कि.मी. दूर है। अहमदाबाद से कलिकुंड तीर्थ के लिए यहां से नियमित बस सेवा है। पालीताणा से यही तीर्थ 190 कि.मी. दूर पडता है। वल्लभीपुर यहां से 110 कि.मी. दूर है। परिचय युगप्रधान दादा जिन्नदत्तसूरीजी म. का जन्म विक्रम संवत् 1132 में यहीं पर हुआ। उन्होंने हजारों अजैनों को उपदेश देकर जैन धर्म की दीक्षा दी और धर्म का प्रचार का विशेष कार्य किया। गुजरात के महाराणा वीरधवल विक्रम संवत् 1276 में वस्तुपाल और तेजपाल दोनों भाईयो को मंत्री पद पर नियुक्त किया था। उन्होंने तथा महामंत्री पेथडशाह ने यहां जिन मन्दिरों तो निर्माण करवाया। इन दिनों यहां पर विशाल नये मन्दिर का काम हो रहा है।
    ठहरने की व्यवस्था: मन्दिर के पास ही सभी सुविधायुक्त विशाल धर्मशाला यथा भोजनशाला है।
    पेढ़ी : श्री वस्तुपाल तेजपाल चैरिटेबल ट्रस्ट
    भालापोल, मु.पो. धोलका जिला अहमदाबाद (गुजरात) , पिनः 387810 , Email: [email protected]