श्री भायखला तीर्थ/ Shree Byculla Tirth

    श्री भायखला तीर्थ/ Shree Byculla Tirth

    SHARE

    श्री भायखला तीर्थ/ Shree Byculla Tirth

    मूलनायक : श्री आदेश्वर भगवान, श्री पुडरिक स्वामी
    मार्गदर्शन : मुंबई शहर से मुंबई सेंट्रल स्टेशन से २ कि.मी., छत्रपति शिवाजी टर्मिनस (व्ही.टी.) रेलवे स्टेशन से ६ कि.मी. दूर यह तीर्थ आया हुआ है। स्टेशन से टैक्सी, बस की सुविधा मिलती है।
    परिचय : अनेक तीर्थों के निर्माता, धर्मप्रेमी दानवीर श्री मोतीशा शेठ द्वारा अहमदाबाद से श्री आदेश्वर भगवान की प्रतिमाजी वि. स. १८८५ को प्रतिष्ठा हुई। जिर्णोद्धार तीर्थ की प्रतिष्ठा वि. स. २०४३ मगसर सुद ६ प. पू. आ. मेरू पभू सूरीश्वरजी आदि ठाणा की निश्रा में हुई। मूलनायक आदेश्वर भगवान तथा पुडरिक स्वामी तथा अलग-अलग देरीया और २४ तीर्थंकर विराजमान है। घर्टाकर महावीर स्वामी, श्री नाकोडा भैरूजी की प्रतिमा विराजमान है। इस विशाल जगह में साधू-साध्वीजी, आराधना भवन, मोतीशा जैन पाठशाला, आम्बील भवन, कबुतरखाना, युगवीर वल्लभ सुरीश्वरजी म.सा. समाधी मंदिर परिसर में हैं।
    ठहरने की व्यवस्था : बाहर से आने वाले जैन भाइयों के ठहरने के लिए अति उत्तम व्यवस्था है। भोजनशाला, आम्बील खाता की सुंदर व्यवस्था है।
    पेढ़ी : श्री शेठ मोतीशा रिलीजयस & चेरिटेबल ट्रस्ट १८०, मोतीशा लेन, भायखला (पूर्व), मुंबई-४०००२७.